नन्ही दुनिया

Examination परीक्षा लेती है परीक्षा, कभी कठिन कभी सरल। कदम-कदम पर होती परीक्षा, कभी ठोस कभी तरल। उधार की पूंजी से, नहीं चलता है काम। अपनी ही पूंजी से, मिलता सुयश और नाम। परीक्षा के होते हैं, कितने ही रूप-रंग। कभी लिखित कभी मौखिक, तो कभी प्रकृति के संग। हर मौसम लेता है परीक्षा, कभी
0 Comments
तुलजा भवानी के उपासक, समर्थ रामदाश के शिष्य और भारत के वीर सपूतों में से एक छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्म सन्‌ 19 फरवरी 1630 में मराठा परिवार में हुआ। कुछ लोग 1627 में उनका जन्म बताते हैं। उनका पूरा नाम शिवाजी भोंसले था। शिवाजी पिता शाहजी और माता जीजाबाई के पुत्र थे। उनका जन्म
0 Comments
Shivaji Maharaj जब छत्रपति शिवाजी को यह पता चला कि समर्थ रामदासजी ने महाराष्ट्र के ग्यारह स्थानों में हनुमानजी की प्रतिमा स्थापित की है और वहां हनुमान जयंती उत्सव मनाया जाने लगा है, तो उन्हें उनके दर्शन की उत्कृष्ट अभिलाषा हुई। वे उनसे मिलने के लिए चाफल, माजगांव होते हुए शिगड़वाड़ी आए। वहां समर्थ रामदास
0 Comments
भारत का रंग-रंगीला त्योहार होली, प्यारभरे रंगों से सजा यह पर्व हर धर्म, संप्रदाय व जाति के बंधन खोलकर भाईचारे का संदेश देता है। इस दिन सारे लोग अपने पुराने गिले-शिकवे भूलकर गले लगते हैं और एक-दूजे को गुलाल लगाते हैं। होली एक ऐसा रंग-बिरंगा त्योहार है जिसे हर धर्म के लोग पूरे उत्साह और
0 Comments
महाराष्ट्र के एक प्रसिद्ध संत थे समर्थ स्वामी रामदास। वे महाराजा छत्रपति शिवाजी के गुरु थे। उनके अमूल्य विचारों से कई महापुरुष भी प्रेरित थे। उनके विचारों ने लोगों और समाज को एक नई दिशा दी। इतना ही नहीं उनके विचारों पर अमल करने से आप स्वयं अपने जीवन की राह आसान बना लेंगे। यहां
0 Comments
रुई के पंखे लगा-लगा कर। चारों तरफ धुंध दिन में भी, कुछ भी पड़ता नहीं दिखाई। मजबूरी में बस चालक ने, बस की मस्तक लाइट जलाई। फिर भी साफ नहीं दिखता है, लगे ब्रेक, करते चीं-चीं स्वर। विद्यालय से जैसे-तैसे, सी-सी-करते आ घर पाएं। गरम मुंगौड़े, आलू छोले, अम्मा ने मुझ को खिलवाएं। सर्दी मुझे
0 Comments
Indian political activist जन्म- 13 फरवरी 1879 मृत्यु- 2 मार्च 1949 सरोजिनी नायडू का जन्म 13 फरवरी 1879 को हैदराबाद में हुआ था। उनकी माता का नाम वरद सुंदरी था, वे कवयित्री थीं और बंगला में लिखती थीं। उनके पिता का नाम अघोरनाथ चट्टोपाध्याय था, जो एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक और शिक्षाशास्त्री थे। ‘भारत कोकिला’ के
0 Comments
Bharatiya Jan Sangh leader जन्म- 25 सितंबर 1916 मृत्यु- 11 फरवरी 1968 – राजश्री * पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितंबर 1916 को मथुरा जिले के नगला चंद्रभान गांव में हुआ था। * उनके पिता का नाम भगवती प्रसाद उपाध्याय और माता का नाम रामप्यारी था। * उनके पिता रेलवे में सहायक स्टेशन मास्टर
0 Comments
chocolate HISTORY चॉकलेट का इति‍हास ‘चॉकलेट’ इस शब्‍द के बारे में बहुत से तथ्‍य हैं। कुछ के अनुसार यह शब्‍द मूलत: स्‍पैनि‍श भाषा का शब्‍द है। ज्‍यादातर तथ्‍य बताते हैं कि चॉकलेट शब्‍द माया और एजटेक सभ्‍यताओं की पैदाइश है जो मध्‍य अमेरि‍का से संबंध रखती हैं। एजटेक की भाषा नेहुटल में चॉकलेट शब्‍द का
0 Comments
Spring Season ऋतु आई है फिर बसंत की। हवा हंस रही दिक दिगंत की। सरसों के पीले फूलों ने, मटक-मटक कर शीश हिलाएं। तीसी के नीले सुमनों ने, खेतों में बाजार सजाएं। राह तके बैठें हैं अब सब, शीत लहर के शीघ्र अंत की। कोयल कूकी आम पेड़ पर, पीत मंजरी महक उठी है। पांत,
0 Comments
अनिरुद्ध जोशी| Last Updated: बुधवार, 5 फ़रवरी 2020 (11:16 IST) यह एक प्राचीन लोककथा है। ओशो रजनीश ने अपने प्रवचनों में इसे सुनाया था। यह कहानी कई लोगों के अलग अलग तरीके से सुनाई है। यह बहुत ही प्रेरणा देने वाली कहानी है। यदि आप इसे समझ जाते हैं तो यह ज्ञान ही नहीं बहुत
0 Comments
प्रत्येक वर्ष 14 फरवरी के दिन वेलेंटाइन डे मनाया जाता है। वेलेंटाइन डे को प्रेम दिवस के रूप में भी जाना जाता है। यह दिन प्रेमी युगलों के लिए एक उत्सव की तरह होता है, जब खास तौर से अपने प्रिय को प्रेम अभिव्यक्त किया जाता है। वेलेंटइन डे इतिहास : वेलेंटइन डे की शुरुआत
0 Comments
दाढ़ी के डिब्बे से बंदर, भाग गया लेकर सामान। दाढ़ी उसकी बहुत बड़ी है, अभी-अभी आया है ध्यान। लगा गाल में साबुन उसने, रेजर खूब चलाई। दाढ़ी में से नदी खून की, तेजी से बह आई। फेंकी रेजर ब्लैड। रोते-रोते बैठ गए वे, पकड़े अपना पेट। नकल किसी की भी करने से, होता है नुकसान।
0 Comments
अनिरुद्ध जोशी| पुनः संशोधित सोमवार, 3 फ़रवरी 2020 (11:43 IST) दुनियभर में युद्ध, संघर्ष, विध्वंस का दौर जारी है। लोगों के दिलों से नफरत निकालना और उनके दिलों को जोड़ना सचमुच बहुत ही मुश्किल है। ऐसे में बु‍द्ध की शिक्षा ही मनुष्य को बचा सकती है। एक डाकू था अंगुलिमाल। जो भी उसके इलाके से
0 Comments