नन्ही दुनिया

पेंट शर्ट और जूते पहने, पहुंच गई वह शाला। पर टीचर मैडम को उसने, पसोपेश में डाला। ऊपर से नीचे जूतों तक, ड्रेस पड़ी दिखलाई। कौन पहनकर इसे खड़ा है, मैडम समझ न पाई। ड्रेस बहन, अपना परिचय दो, किस कारण से आई। ‘मैडम मैं नन्हीं चींटी हूं, ड्रेस पहनकर आई।’
0 Comments
ओजोन लेयर के बारे में सभी ने बचपन से ही कीताबों में पढ़ा है, आप यह तो जानते ही होंगे की धरती से 30 किलोमीटर की ऊंचाई पर एक परत होती है, जिसे ओजोन लेयर (ozone layer) कहा जाता है। यह परत सूर्य की हानिकारक पराबैंगनी किरणों (ultraviolet radiations) को हम तक पहुंचने से रोकती
0 Comments
भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का 17 सितंबर को जन्मदिन आता है। प्रधानमंत्री के जन्मदिन के मौके पर हम आपको बता रहे हैं उनके बारे में 1-2 नहीं बल्कि 35 ऐसी रोचक बातें जिन्हें आप जरूर जानना चाहेंगे। आइए, जानते हैं – 1. नरेन्द्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को वड़नगर में दामोदार दास
0 Comments
भारत में प्रतिवर्ष 15 सितंबर को इंजीनियर डे मनाया जाता है। इस दिन को महान इंजीनियर एम. विश्वेश्वरैया को समर्पित किया गया है और उन्हीं की याद में इस दिन को इंजीनियर दिवस के तौर पर मनाया जाता है। सर एम. विश्वेश्वरैया एक बेहतरीन इंजीनियर थे और उन्होंने कई महत्वपूर्ण कार्यों जैसे नदियों के बांध,
0 Comments
बचपन से हम स्कूल की किताबों में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma gandhi) के बारे में पढ़ते आए हैं, इसलिए उनके बारे में सामान्य जानकारी हर कोई जानता है। लेकिन गांधी जी से जुड़ी ऐसी कई बातें हैं, जो हर किसी को पता नही है लेकिन उन्हें जानना भी जरूरी है। आइए, जानें गांधी जी के
0 Comments
विश्व की दूसरी सबसे बड़ी भाषा है हिन्दी। चीनी भाषा के बाद यह विश्व में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है। भारत और अन्य देशों में 60 करोड़ से अधिक लोग हिन्दी बोलते, पढ़ते और लिखते हैं। इतना ही नहीं फ़िजी, मॉरीशस, गुयाना, सूरीनाम जैसे दूसरे देशों की अधिकतर जनता हिन्दी बोलती है। भारत
0 Comments
8 सितंबर यानि विश्व साक्षरता दिवस। विश्व में शिक्षा के महत्व को दर्शाने और निरक्षरता को समाप्त करने के उद्देश्य से 17 नवंबर 1965 को यह निर्णय लिया गया, कि प्रत्येक वर्ष 8 सि‍तंबर को विश्व साक्षरता दिवस के रूप मे मनाया जाएगा। सन 1966 में पहला विश्व साक्षरता दिवस मनाया गया था और वर्ष
0 Comments
आदरणीय शिक्षकों और मेरे सभी साथियों, आप सभी का मैं इस सभा में स्वागत करती हूं। आज हम सभी यहां शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में एकत्रित हुए हैं। मैं आभारी हूं कि आज के इस खास मौके पर मुझे अपने विचार आप सभी के सामने रखने का मौका मिला। इस अवसर के लिए मैं अपने
0 Comments
एक बार कि बात है, एक गुरू अपने कुछ शिष्यों के साथ पैदल ही यात्रा पर थे। वे चलते-चलते किसी गांव में पहुंच गए। ये गांव काफी बड़ा था, वहां घूमते हुए उन्हें काफी देर हो गयी थी। गुरू जी थक चुके थे और उन्हें बहुत प्यास लगी थी, तो उन्होनें अपने एक शिष्य से
0 Comments
क्यों न इस टीचर्स डे पर हर उस शख्स जिनसे हमने जीवन में कुछ न कुछ सिखा है, उन्हें हम ध्न्यवाद देते हुए शुभकामनाओं सहित प्यार भरे संदेश भजें। हम आपके लिए लेकर आए हैं टीचर्स डे के लिए शानदार कोट्स का कलेक्शन – 1. जो बनाए हमें इंसान और दे सही-गलत की पहचान देश
0 Comments
पूरे देश में 5 सितंबर को टीचर्स डे (Teacher’s Day) धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन स्‍कूल, कॉलेज, कोचिंग और अन्‍य शिक्षण संस्‍थानों में शिक्षकों के सम्‍मान में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, जिनमें स्‍टूडेंट्स शिक्षकों को तोहफे देकर अपना सम्‍मान प्रकट करते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि शिक्षक दिवस या
0 Comments
प्रिय विद्यार्थियों, स्नेहिल शुभकामनाएं आप आज शिक्षक दिवस मना रहे हैं। दिवसों की भीड़ में एक और दिवस। कहने को मैं आपकी शिक्षिका हूं, किंतु सच तो यह है कि जाने-अनजाने न जाने कितनी बार मैंने आपसे शिक्षा ग्रहण की है। कभी किसी के तेजस्वी आत्मविश्वास ने मुझे चमत्कृत कर‍ दिया तो कभी किसी विलक्षण
0 Comments
ज्ञान की बात हो, योग्यता की या फिर बेहतर इंसान होने की, इन सभी मामलों में शिक्षक हमारे जीवन में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। लेकिन ज्ञान के साथ-साथ कुछ और भी योग्यताएं हैं जो एक शिक्षक को अपने आप में बेहतरीन और स्टूडेंट्स का पसंदीदा बनाती हैं। जानिए ऐसी ही 5 खूबियां जो आपको
0 Comments
डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन भारत के प्रथम उप-राष्ट्रपति और द्वितीय राष्ट्रपति रहे है। वे भारतीय संस्कृति के संवाहक, प्रख्यात शिक्षाविद, महान दार्शनिक और एक आस्थावान हिन्दू विचारक थे। उनके इन्हीं गुणों के कारण सन् 1954 में भारत सरकार ने उन्हें सर्वोच्च सम्मान ‘भारत रत्न’ से नवाजा और उनके जन्म दिवस (5 सितम्बर) को भारत में शिक्षक
0 Comments
हमारे व्यक्तित्व निर्माण में शिक्षकों के महत्वपूर्ण योगदान को जीवनभर नहीं भूलाया जा सकता। शिक्षक दिवस के खास मौके पर अधिकांश लोग अपने गुरु के प्रति प्रेम और सम्मान प्रकट करने के लिए उन्हें कुछ भेंट करने का सोचते है। लेकिन समस्या यह होती है कि अपने प्यारे शिक्षक के लिए इस दिन क्या करें,
0 Comments
दादाभाई नौरोजी : जन्म – 4 सितंबर, 1825, मृत्यु – 30 जून, 1917 भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की नींव रखने वाले दादाभाई नौरोजी का जन्म मुंबई (बम्बई) के एक गरीब पारसी परिवार में 4 सितंबर को हुआ था। उनके पिता का नाम नौरोजी पलांजी डोरडी तथा माता का नाम मनेखबाई था।  दादाभाई केवल 4 वर्ष के
0 Comments