खुदीराम: 18 साल में देश पर शहीद, खास बातें

शिक्षा

खुदीराम बोस की हंसी देखकर जज हो गया था कन्फ्यूज, पढ़ें रोचक कहानी

Web Title:know the interesting facts about khudiram bose

(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

1/8

अपने कीबोर्ड की जगह वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल करें

उनका बचपन बस बीता ही था, उनके साथी जब पढ़ाई और परीक्षा के बारे में सोच रहे थे, वह क्रांति की मशाल रौशन कर रहे थे, जिस उम्र में लोग जिंदगी के हसीन ख्वाब बुनते हैं, वह वतन पर निसार होने का जज्बा लिए हाथ में गीता लेकर फांसी के फंदे की तरफ बढ़ गए और देश की आजादी के रास्ते में अपनी शहादत का दीप जलाया। यह थे अमर शहीद खुदीराम बोस। खुदीराम के बगावती तेवरों से घबराई अंग्रेज सरकार ने मात्र 18 वर्ष की आयु में उन्हें फांसी पर लटका दिया, लेकिन उनकी शहादत ऐसा कमाल कर गई कि देश में स्वतंत्रता संग्राम के शोले भड़क उठे। 11 अगस्त, 1908 को ब्रिटिश सरकार ने सिर्फ 18 साल की उम्र में उन्हें फांसी पर लटका दिया था। उनका जन्म आज ही के दिन यानी 3 दिसंबर, 1889 को हुआ था। आइए इस मौके पर उनसे जुड़ीं कुछ खास बातें जानते हैं…

Products You May Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *