उपहार सिनेमा ट्रेजेडी : ‘सुशील अंसल को पासपोर्ट जारी करने के लिए दिल्ली पुलिस जिम्मेदार’

क्राइम

विदेश मंत्रालय ने उपहार सिनेमा अग्निकांड के दोषी रियल एस्टेट कारोबारी सुशील अंसल को बिना उचित वैरिफिकेशन के पासपोर्ट जारी करने के लिए दिल्ली पुलिस तथा पासपोर्ट अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया है। दिल्ली हाईकोर्ट की जस्टिस नाजमी वजीरी के समक्ष पेश की गई जांच रिपोर्ट में मंत्रालय ने कहा कि साल 2000 और 2004 में अंसल को उनके द्वारा दिए गए घोषणापत्र के आधार पर अतिरिक्त बुकलेट जारी की गई क्योंकि इसके लिए पुलिस वैरिफिकेशन की जरूरत नहीं होती।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि 2013 में जब उन्होंने तत्काल योजना के तहत ताजा पासपोर्ट मांगी तो पुलिस वैरिफिकेशन की गई और विभाग ने मंजूरी रिपोर्ट दे दी जिसके आधार पर उन्हें पासपोर्ट जारी किया गया।

पुलिस से मिली मंजूरी

न्यूज एजेंसी भाषा के अनुसार, विदेश मंत्रालय की रिपोर्ट में कहा गया है कि जब अदालत में मामले लंबित हैं और पहले भी दोषी ठहराया गया तो यह स्पष्ट नहीं है कि कैसे 2013 में पुलिस की जांच में इन आयामों पर ध्यान नहीं दिया गया, लेकिन पासपोर्ट जारी करने वाले अधिकारियों को पुलिस से जो रिपोर्ट मिली उसमें मंजूरी दी गई थी।

कोर्ट ने विदेश मंत्रालय से उन पासपोर्ट अधिकारियों के खिलाफ जांच करने के लिए कहा था जिन्होंने 2000, 2004, 2013 और 2018 में अंसल को लगातार पासपोर्ट जारी किया। कोर्ट ने मंत्रालय से इस पर एक रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा था।

अंसल के पास हैं दो पासपोर्ट

कोर्ट उपहार त्रासदी पीड़ित संघ की अध्यक्ष नीलम कृष्णमूर्ति के जरिये दायर याचिका पर सुनवाई कर रही है जिसमें आरेाप लगाया गया है कि अंसल ने अपने पासपोर्ट के नवीनीकरण के लिए अधिकारियों के साथ धोखाधड़ी की।

याचिका में आरोप लगाया गया है कि अंसल के पास दो पासपोर्ट हैं जो दिखाते हैं कि उचित प्रक्रिया का पालन किए बिना और यहां तक कि पिछले 21 साल में अदालतों से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) लिए बिना उन्हें पासपोर्ट जारी किया गया और उसका नवीनीकरण किया गया। इस दौरान वह कई बार विदेश गए। ज्ञात हो कि उपहार हादसे में 59 लोग मारे गए थे। 

उपहार ट्रेजडी: अंसल को पासपोर्ट जारी करने वाले अधिकारियों की होगी जांच

SC ने खारिज की गोपाल अंसल की याचिका, अब भुगतनी होगी सजा

Products You May Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *