चार दिन की है जिंदगी

जोक्स

रोज-रोज वजन माप कर क्या करना है,

एक दिन तो सबको मरना है।

चार दिन की है जिंदगी है,
खाओ जी भरकर,

अगले जन्म फिर 3
किलो से शुरू करना है।


राकेश, दिल्ली

Products You May Like

Articles You May Like

किसे बनाएं अपना मित्र और किससे रहना है दूर, जानिए हाथ की रेखाओं से
चाणक्य नीतिः इन 3 स्थानों पर मनुष्य की बुद्धि उत्तम होती है
छात्रों के मददगार बने विडियो, परीक्षा का डर दूर
अनमोल वचन: संत रविदास के दोहे और कहावतें, ऐसे समाई कठौती में गंगा
दांतों तले उंगली दबा लेंगे आप इन रिवाजों के बारे में जानकर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *