सिद्धू की पत्नी के खिलाफ बिहार में मामला दायर, रेलवे और पंजाब सरकार को NHRC का नोटिस

ताज़ातरीन

मुजफ्फरपुर/अमृतसर: बिहार के मुजफ्फरपुर की एक अदालत में अमृतसर हादसे को लेकर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि नवजोत कौर सिद्धू के खिलाफ मामला दायर किया गया है. वहीं, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने रेलवे और पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया है. अमृतसर में दशहरा के दिन रावण दहन के दौरान करीब 60 लोगों की मौत ट्रेन की चपेट में आने से हो गई थी. मृतकों में बिहार के प्रवासी भी शामिल थे. सिद्धू के बचाव में कांग्रेस सांसद सुनील जाखड़ और पंजाब के मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा आगे आए और उन्होंने घटना के लिए रेल अधिकारियों को दोषी ठहराने का प्रयास किया.

यह भी पढ़ें : अमृतसर ट्रेन हादसा: रावण दहन के आयोजक सौरभ मदान मिट्ठू का VIDEO आया सामने, कही यह बात…

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह इजरायल गए हुए हैं. उन्होंने राज्य सरकार के अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस से स्थिति की समीक्षा की और उन्हें प्रभावित परिवारों को राहत और मुआवजा प्रदान करने की प्रक्रिया में तेजी लाने को कहा. इस हादसे से नाराज लोगों ने रविवार को पथराव किया था और सुरक्षा कर्मियों के साथ उनकी झड़प भी हुई थी. वे पटरियों पर बैठ गए थे जहां दुर्घटना हुई. बाद में उन्हें अधिकारियों द्वारा हटा दिया गया. समीक्षा बैठक के दौरान, अधिकारियों ने सिंह को बताया कि एक को छोड़कर सभी पीड़ितों की पहचान कर ली गई है.

Exclusive: ‘मैडम, 500 ट्रेन गुजर जाए, तब भी 5000 लोग ट्रैक पर खड़े रहेंगे’, जानिये इसके बारे में क्या कहा नवजोत कौर ने…

इस बीच, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने अमृतसर दुर्घटना को लेकर सोमवार को रेलवे और पंजाब सरकार को नोटिस जारी किया. नोटिस जारी करते हुए आयोग ने कहा कि रेल पटरियों पर लोगों के बैठने को ‘समझदारी भरा काम’ नहीं कहा जा सकता, लेकिन साथ ही इस ‘भयावह घटना’ के पीछे ‘जिले के अधिकारियों की लापरवाही स्पष्ट है.’    एनएचआरसी प्रवक्ता ने कहा कि आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव और रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष से चार हफ्तों में मामले की विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. एनएचआरसी ने मीडिया में आई खबरों का संज्ञान लिया. 

टिप्पणियां

VIDEO : अमृतसर में रेल सेवा बहाल

(इनपुट : भाषा)

Products You May Like

Articles You May Like

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के घोषणापत्र पर बवाल, उमा भारती बोलीं- जब तक हम जिंदा हैं तब तक RSS पर कोई बैन नहीं लगा सकता
अयोध्या मुद्दे पर कन्हैया कुमार का BJP पर तंज- जहां न चले मोदी का काम, वहां चले राम नाम
क्या है खरना, छठ पूजा में खरना की विधि और महत्व जानें
वसुंधरा जी आपने वाक़ई 44 लाख नौकरियां दी हैं?
OnePlus 6T नए अवतार में लॉन्च, जानें कीमत व खूबियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *