कर्नाटक : कांग्रेस और JDS ने BJP को बताया ‘साझा शत्रु’, कहा- एकसाथ लड़कर जीतेंगे उपचुनाव

बड़ी ख़बर

बेंगलुरु: कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस और जद (एस) गठबंधन ने भाजपा को ‘‘साझा शत्रु” बताते हुए कहा कि राज्य में उनका गठबंधन देशभर की धर्मनिरपेक्ष पार्टियों के लिए एक संदेश है कि वह अगले लोकसभा चुनाव में ‘‘सांप्रदायिक ताकतों” को हराने के लिए एकजुट हो जाये. राज्य की तीन लोकसभा सीटों और दो विधानसभा सीटों के तीन नवम्बर को होने वाले उपचुनाव के मद्देनजर एकजुटता जाहिर करते हुए कांग्रेस और जद (एस) नेताओं ने पार्टी कार्यकर्ताओं से भाजपा को हराने के लिए एकजुट होने की अपील की. जद (एस) के प्रमुख और पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा ने कहा, ‘‘हमारा लक्ष्य राज्य और देश में धर्मनिरपेक्ष व्यवस्था की जड़ों को मजबूत करना है और इस प्रकार केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली मौजूदा सरकार से छुटकारा पाना है जो इस देश में कई मुद्दों के लिए जिम्मेदार है.”    

पीएम मोदी के कर्नाटक से 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर येदियुरप्पा ने दिया ये बयान

गठबंधन सहयोगियों द्वारा आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘यह सिर्फ शुरूआत है. हम यह उप-चुनाव एकसाथ जीतेंगे. यद्यपि हमने अतीत में एक-दूसरे के खिलाफ लड़ाई लड़ी है, फिर भी हम उन सांप्रदायिक ताकतों और व्यवस्था को पराजित करने के लिए एक साथ लड़ेंगे जो हमारे समाज को विभाजित करना चाहते हैं.” इस संवाददाता सम्मेलन में मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी, पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, राज्य के कांग्रेस प्रमुख दिनेश गुंडू राव और उप मुख्यमंत्री जी परमेश्वर शामिल हुए.    

कुमारस्वामी का सनसनीखेज आरोप, सरकार गिराने के लिये पैसे इकट्ठा कर रही भाजपा, कहा- ‘सरगना’ को छोड़ूंगा नहीं

टिप्पणियां

तीन लोकसभा सीटों शिवमोगा, बेल्लारी और मांड्या तथा दो विधानसभा सीटों रामानगर और जामखंडी के लिए तीन नवम्बर को उपचुनाव होंगे. मतों की गिनती छह नवम्बर को होगी. गठबंधन समन्वय समिति के प्रमुख सिद्धारमैया ने कहा,‘‘यदि धर्मनिरपेक्ष ताकतें एकजुट रहेंगी तो भाजपा जीत हासिल नहीं कर सकती, लेकिन धर्मनिरपेक्ष वोट आमतौर पर विभाजित हो जाते हैं, इसलिए भाजपा को फायदा होता है. इसलिए हमें राज्य और राष्ट्रीय स्तर दोनों पर इन्हें रोकना होगा.” 

VIDEO: NDTV Cleanathon : कर्नाटक के सीएम बोले- शौचालय के साथ जल संकट भी कर रहे दूर
साथ ही उन्होंने कहा कि हमने कर्नाटक में अपने गठबंधन के जरिये इस प्रक्रिया की शुरूआत कर दी है.

Products You May Like

Articles You May Like

OnePlus यूजर्स के लिए प्रॉब्लम बना यह बग, बंद कर रहा बैकग्राउंड के ऐप्स
सिंह साप्‍ताहिक राशिफल (21 से 27 जनवरी): हिम्मत से काम लें
राफेल पर कांग्रेस ने उठाए नए सवाल, पूछा-हर फैसले 4-3 से कैसे हुए?
Jio Effect: Airtel अब 199 रुपये में रोजाना देगा 1.5GB डेटा
Xiaomi Redmi 6 को मिला नया सॉफ्टवेयर अपडेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *