अमृतसर ट्रेन हादसे में खुलासा: पुलिस ने दी थी ‘रावण दहन’ कार्यक्रम के लिए NOC, जानें घटना से जुड़ी 10 बातें

बड़ी ख़बर

Amritsar Train Accident: अमृतसर में बड़ा ट्रेन हादसा

नई दिल्ली: पंजाब के अमृतसर शहर (Amritsar train accident) में एक ट्रेन हादसे ने खुशी के पल को पूरी तरह से मातम में बदल दिया. ट्रेन हादसा भले ही अमृतसर में हुआ, मगर इसके शोक पूरा देश डूब गया. दरअसल, अमृतसर शहर (Amritsar train accident) के जोड़ा फाटक इलाके में दशहरे (Dussehra 2018) के दौरान हुए अमृतसर ट्रेन हादसे (Train accident in Amritsar) में एक नया खुलासा सामने आया है. ट्रेन हादसे में आरोप-प्रत्यारोप के दौर के बीच पुलिस ने स्वीकार किया कि उसने आयोजकों को अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया था लेकिन कहा कि कार्यक्रम के लिये नगर निगम की भी मंजूरी की जरूरत थी. इस बीच सामने आए एक खत से संकेत मिले हैं कि आयोजकों – स्थानीय कांग्रेस पार्षद के परिवार ने कार्यक्रम स्थल पर सुरक्षा इंतजाम की भी मांग की थी जहां पंजाब के मंत्री नवजोत सिद्धु और उनकी पूर्व विधायक पत्नी नवजोत कौर सिद्धु के आने की उम्मीद थी. प्रत्यक्षदर्शियों ने हालांकि शिकायत की कि जोड़ा फाटक के पास पटरियों के साथ लगे मैदान में लोगों की सुरक्षा के लिये इंतजाम पर्याप्त नहीं थे. दरअसल, दशहरा के दिन रावण देखने आए लोग ट्रैक पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे, तभी ट्रेन से कटकर करीब 61 लोगों की मौत हो गई और पचास से अधिक घायल हो गये. हालांकि, इस घटना की न्यायिक जांच के आदेश दे दिये गए हैं.

Products You May Like

Articles You May Like

नोटबंदी से बर्बाद हुए 5 लुटेरे, नहीं बदल पाए 5.8 करोड़ के नोट
रालोसपा नेता की गोली मार कर हत्या, उपेंद्र कुशवाहा ने साधा नीतीश सरकार पर निशाना
WhatsApp में जल्द आएगा Add Contact और QR Code का फीचर
रफाल और नोटबंदी को लेकर CAG की चुप्पी पर 60 रिटायर्ड अफसरशाहों ने उठाए सवाल
टाटा स्टील के मैनेजर की हत्या के बाद ये तीन अधिकारी थे भी निशाने पर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *