बेरोजगारी, भ्रष्टाचार से होती है भारतीयों को सबसे अधिक परेशानी: सर्वेक्षण

नयी दिल्ली, 12 अक्टूबर (भाषा) देश के लोगों को अपराध तथा हिंसा के साथ ही बेरोजगारी और आर्थिक एवं राजनीतिक भ्रष्टाचार जैसे मुद्दें अधिक परेशान करते हैं। एक सर्वेक्षण में यह बात सामने आयी है। ‘विश्व को क्या करता है परेशान?’ विषय पर इप्सोस के सर्वे में पता चलता है कि देश के 44 प्रतिशत लोग बेरोजगारी तथा वित्तीय एवं राजनीतिक भ्रष्टाचार से परेशान होते हैं। सर्वेक्षण के अनुसार, अपराध एवं हिंसा से 33 प्रतिशत भारतीयों को परेशानी होती है। गरीबी और सामाजिक असमानता को 31 प्रतिशत भारतीय प्रमुख मुद्दा मानते हैं। आतंकवाद को भी 21 प्रतिशत भारतीयों ने परेशानी का विषय माना है। इनके अलावा शिक्षा से 19 प्रतिशत, पर्यावरण नुकसान से 16 प्रतिशत, करों से 15 प्रतिशत, पर्यावरण परिवर्तन से 14 प्रतिशत, चिकित्सा से 13 प्रतिशत, महंगाई से 11 प्रतिशत और नैतिकता में पतन से 10 प्रतिशत भारतीय परेशान हैं। सर्वेक्षण में 67 प्रतिशत लोगों ने यह माना है कि देश का नेतृत्व सही दिशा में जा रहा है। इस आधार पर सबसे अधिक 92 प्रतिशत चीन के लोगों ने अपने देश की दिशा को सही माना है। इसके आद 78 प्रतिशत के साथ सऊदी अरब दूसरे, 67 प्रतिशत के साथ भारत तीसरे तथा 65 प्रतिशत के साथ मलेशिया चौथे स्थान पर है। इप्सोस का यह सर्वेक्षण एक मासिक सर्वेक्षण है। इसे 28 देशों में किया जाता है तथा 65 साल की उम्र तक के लोग इसमें भाग लेते हैं।

Products You May Like

Articles You May Like

पापांकुशा एकादशी 2018: जानें महत्व, पूजा-विधि और शुभ मुहूर्त
‘अंगूरी भाभी’ ने संभाला नया मोर्चा, वोट डालने के लिए जनता को यूं करेंगी जागरूक
#MeToo कैंपेन पर राज ठाकरे का बड़ा बयान, बोले- यह पेट्रोल-डीजल के दाम, बेरोजगारी से ध्यान भटकाने के लिए है
PAK vs AUS: वे‍ल्डिंग की और लेदर फैक्‍टरी में किया काम, इस पाकिस्‍तानी बॉलर की आज है हर जगह चर्चा
Nokia X7 का ग्लोबल अवतार हो सकता है Nokia 8.1, स्पेसिफिकेशन लीक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *