अयोध्या: जव्‍वाद बोले, कोर्ट का फैसला सब मानें

देश

प्रेस कॉन्फ्रेंस करते कल्बे जव्वाद

जौनपुर

शिया धर्म गुरु मौलाना कल्बे जव्वाद ने गुरुवार को कहा कि अयोध्या में मंदिर-मस्जिद का मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है और जो न्यायालय का फैसला आएगा उसे हम सबको मानना चाहिए।

शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी जिस तरह से एक के बाद एक विवादित बयान देकर सस्ती लोकप्रियता हासिल कर मीडिया की सुर्खियां बटोर रहे हैं। उससे तो यही लगता है कि आरएसएस के बड़े नेताओं का हाथ उनके सर पर है। यही वजह है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा वक्फ के घोटाले की सीबीआई जांच की सिफारिश होने के बावजूद भी उन पर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है।

वसीम रिजवी ने पूर्व मंत्री आजम खान के साथ मिलकर कई बड़े घोटाले किए हैं और उन्होंने हमारे सबसे बड़े धर्मगुरु आयतुल्लाह सिश्तानी के बारे में बोला था तो सभी उलेमाओं ने एकजुट होकर शिया कौम से खारिज कर दिया था। इसलिए उनके बयान पर कोई तव्वजो शिया कौम नहीं देती।

भारत और इरान के रिश्ते पर कहा कि इरान हमेशा भारत का दोस्त रहा है और जिस तरह से अमेरिका पूरी दुनिया में अपनी दादागिरी कर ईरान को बर्बाद में जुटा है उससे सतर्क रहने की जरुरत है। इरान हमें सस्ते तेल आयात करता है, जिससे भारत को फायदा होता है और हम उम्मीद करते हैं कि भारत सरकार इस रिश्ते को निभाती रहेगी। गुजरात में हो रहे उत्तर भारतीयों के हमले पर उन्होंने चिंता जताई और कहा कि यह देश हम सबका है और कोई भी हिन्दुस्तान का नागरिक कहीं भी जाकर काम कर सकता है। ऐसी राजनीति देश तोड़ने के काम के लिए कुछ लोग कर रहे है उनसे सतर्क रहने की जरुरत है।

2019 के लोकसभा चुनाव में शिया कौम उनका सपोर्ट करेगी जो उनके हक को दिलाने की बात कहेगी। इस मौके पर मौलाना सफदर हुसैन जैदी, सैयद शहंशाह हुसैन रिजवी, अजादारी कौन्सिल के महासचिव तामिर हसन शीबू, जफर मेंहदी, सैयद जरगाम एहसन एडवोकेट मौजूद रहे।

Products You May Like

Articles You May Like

Asus ZenFone 4 Max को मिलना शुरू हुआ एंड्रॉयड 8.1 ओरियो अपडेट
Huawei Mate 20 और Mate 20 Pro लॉन्च, जानें इनकी सारी खूबियां
टैरो राशिफल 20 अक्टूबर: देखिए आज क्या कहते हैं आपकी किस्मत के कार्डस
ओडिशा में पेट्रोल से महंगा बिक रहा डीजल!
डूडल: भारत के महान तबला वादक लच्छू महाराज को किया याद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *