जानें, क्यों परिजनों ने कर दिया पेट्रोल पम्पकर्मी का शव लेने से इनकार?

क्राइम

बल्लभगढ़ के दूधोला-पृथला मार्ग पर सोमवार रात पेट्रोल पम्पकर्मी की गोली मारकर हत्या करने के मामले में मृतक के परिजनों ने शव लेने से इनकार कर दिया। बुधवार को पुलिस परिजनों को मनाती रही, लेकिन हत्या के 42 घण्टे बीत जाने के बाद भी परिजनों ने शव लेने को तैयार नहीं हुए। परिजनों ने हत्यारों को तुरंत गिरफ्तार किए जाने की मांग की है।

पलवल : पेट्रोल पंप कर्मी की गोली मारकर हत्या, वारदात CCTV में कैद

पेट्रोल पम्पकर्मी की हत्या के विरोध में बुधवार को सीकरी के अम्बेडकर पार्क में एक बैठक बुलाई गई, जिसमें इलाके के लोगों ने भाग लिया। इस बैठक में पलवल के डीएसपी समेत कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने शव लेने के लिए परिजनों को मनाने का भरसक प्रयत्न किया, लेकिन अभी तक परिजन शव ले जाने को राजी नहीं हुए।

उधर, पुलिस ने बीके अस्पताल पहुंचकर मृतक गजराज के शव को खराब होने से बचाने के लिए फ्रीजर में रखवा दिया है।

मालूम हो कि हथियारबंद बाइक सवार बदमाशों ने तेल के पैसे मांगने पर ड्यूटी पर तैनात गुरुग्राम के गांव लोह सिलानी के रहने वाले गजराज की गोली मारकर हत्या कर दी थी। यह घटना सीसीटीवी में कैद होने के बावजूद पुलिस अभी तक बदमाशों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। इससे परिजनों में पुलिस के प्रति नाराजगी बनी हुई है।

चोरी की बाइक से वारदात को दिया अंजाम

जांच में जुटे पुलिस अधिकारियों का कहना है कि प्रथम दृष्टया यह बात सामने आ रही है कि जिस बाइक से बदमाशों ने हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया, वह हथीन से चुराई गई थी।
 

Products You May Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *