आर्थिक संकट के समाधान को मित्र देशों, आईएमएफ दोनों के पास जायेंगे: इमरान खान

बिज़नेस

इस्लामाबाद, 10 अक्टूबर (भाषा) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को देशवासियों को आश्वासन दिया कि भुगतान संतुलन के संकट से बाहर निकलने के लिये उनकी सरकार मित्र देशों और आईएमएफ दोनों से ही मदद मांगेगी। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे सामने दो विकल्प हैं: पहला, हम मित्र देशों के पास जायें और उनसे कमी को पूरा करने के लिये कहें, दूसरा विकल्प है कि हम अंतरराष्टूीय मुद्राकोष (आईएमएफ) के पास जायें।’’ खान ने यहां नया पाकिस्तान आवासीय कार्यक्रम की शुरुआत करते हुये कहा, ‘‘सरकार ने फैसला किया है कि वह दोनों विकल्पों को अपनायेगी।’’ नया पाकिस्तान आवासीय कार्यक्रम के तहत आने वाले पांच साल में निम्न आय वर्ग के लोगों के लिये 50 लाख मकान बनाये जायेंगे। यह उनकी सरकार की अग्रणी योजना है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने कहा कि अर्थव्यवस्था की स्थिरता के लिये वह जल्द ही देश के समक्ष पूरी योजना रखेंगे जिसमें उन कदमों का जिक्र होगा जिन्हें सरकार आगे उठायेगी। खान ने कहा कि पिछली सरकारों की वजह से देश पर कर्ज का बोझ है। इस कर्ज का भुगतान करने के लिये उनकी सरकार को और कर्ज लेने पर मजबूर होना पड़ रहा है। ‘‘हम इससे बाहर निकलेंगे। मैं देश को इससे बाहर निकालूंगा।’’ पाकिस्तान के वित्त मंत्री असद उमर ने सोमवार को कहा था कि पाकिस्तान 6 से 7 अरब डालर के राहत पैकेज के लिये आईएमएफ के पास जायेगा ताकि बढ़ते भुगतान संकट की समस्या से पार पाया जा सके।

Products You May Like

Articles You May Like

J&K: पुलिस टीम पर आतंकी हमला, 3 घायल
राशिफल 19 अक्टूबर 2018: आज कर्क राशि में लाभ योग, आपकी राशि क्या कहती है
बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में जाएंगे पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के बेटे मानवेंद्र
ओडिशा में बाढ़ की स्थिति में मामूली सुधार, मृतकों की संख्या 24 तक पहुंची 
#MeToo के आरोपों से घिरे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर विदेश दौरे से भारत लौटे, कहा- बाद में दूंगा बयान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *