आईएल एण्ड एफएस संकट: आईसीएआई ने आडिट फर्मों से जवाब मांगा

बिज़नेस

नई दिल्ली, दस अक्टूबर (भाषा) चार्टर्ड एकाउंटेंट की शीर्ष संस्था ‘इंस्टीट्यूट आफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स आफ इंडिया (आईसीएआई) ने कर्ज संकट से जूझ रही कंपनी आईएल एण्ड एफएस समूह का पिछले कुछ साल के दौरान सांविधिक आडिट करने वाली आडिट कंपनियों से स्पष्टीकरण मांगा है। विविध कारोबार करने वाले कंपनी इन्फ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एण्ड फाइनेंसियल सविर्सिज (आईएल एण्ड एफएस) समूह की कुछ कंपनियों के अपनी भुगतान देनदारी में असफल रहने पर बाजार में नकदी संकट को लेकर चिंता बढ़ गई। इस स्थिति को देखते हुये सरकार ने इस महीने की शुरुआत में आईएल एण्ड एफएस के निदेशक मंडल को अपने हाथ में ले लिया। आईसीएआई ने बुधवार को कहा कि उसने उन आडिट फर्मों को नोटिस जारी किया है जिन्होंने समूह का पिछले कुछ वर्षों के दौरान जरूरी आडिट किया है। हालांकि, इस बारे में उसने विशिष्ट ब्यौरा नहीं दिया। आईसीएआई ने जारी वक्तव्य में कहा है कि हाल कि दिनों में ऐसे समाचार आये हैं कि आईएल एण्ड एफएस में लिये गये कर्ज का अन्यत्र इस्तेमाल किया गया। इस तरह की खबरों को स्वत: संज्ञान में लेते हुये ही आईसीएआई के अनुशासनात्मक निदेशालय ने नोटिस जारी किया है। यह नोटिस चार अक्टूबर 2018 को जारी किया गया। आईसीएआई ने इस संबंध में रिजर्व बैंक और गंभीर धोखाधड़ी कार्यालय से भी आईएल एण्ड एफएस मुद्दे से जुड़ा ब्योरा मांगा है।

Products You May Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *