हत्या या हादसा : लोनी-भोपुरा रोड पर चलती कार में जिंदा जला ‘आप’ नेता

क्राइम

भोपुरा से टीला मोड़ जाने वाली सड़क पर गुरुवार देर रात 2.30 बजे चलती कार में जलकर दिल्ली के आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता की मौत हो गई। सूचना पर मौके पर पहुंची दमकल की गाड़ी ने आग पर काबू पाया। मृतक के परिजनों ने साहिबाबाद थाने में कार में आग लगाकर हत्या करने की आशंका जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। मौके पर पहुंची फॉरेंसिक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस घटना के विभिन्न पहलुओं पर जांच कर रही है। दिल्ली के बुद्धनगर के इंद्रपुरी में नवीन कुमार दास अपने परिवार के साथ रहते थे।

45 वर्षीय नवीन कुमार दिल्ली में इवेंट मैनेजमेंट का काम करते थे। गुरुवार देर रात लोनी- भोपुरा रोड पर आईओसीएल गोदाम के पास उनकी कार जलती हुई अवस्था में मिली। मौके पर उनकी मौत हो गई।

घटना की जानकारी मिलने पर दमकल विभाग की टीम ने आग पर काबू पाया। थाना साहिबाबाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसके बाद पुलिस ने फॉरेंसिक टीम ने घटना स्थल से साक्ष्य जुटाए।

वहीं मृतक के परिजनों ने हत्या की आशंका से थाना साहिबाबाद में मामला दर्ज कराया है। साहिबाबाद थाना प्रभारी दिनेश सिंह ने बताया पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने कार के नंबर के माध्यम से मृतक के परिजनों को घटना की सूचना दी।

छतरपुर से भोपुरा कैसे पहुंचा मृतक

जानकारी के अनुसार मृतक नवीन घर से गुरुवार दोपहर जमीन का सौदा करने के लिए छतरपुर गया था। नवीन ने अपनी बहन से बात कर बताया भी कि जमीन का सौदा हो गया है। उसके बाद से उसका नंबर बंद हो गया। सुबह पांच बजे साहिबाबाद पुलिस ने परिजनों को इस दुर्घटना की जानकारी दी। इसके बाद परिजन मौके पर पहुंचे। आग कैसे लगी यह स्पष्ट नहीं अग्निशमन अधिकारी एए हुसैन ने बताया कि घटना के बाद दमकल ने आग बुझाई।

नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर कार कंपनी के अधिकारी ने बताया कि नवीन जिस कार में सवार थे, वह ब्रांड न्यू डीजल कार थी। सामान्यतया डीजल कार में आग नहीं लगती है। पुलिस जांच आग लगने की वजह की जांच कर रही है।

सेंट्रल लॉक लगा होने से बाहर नहीं निकल पाया नवीन 

साहिबाबाद थाना प्रभारी दिनेश सिंह ने बताया कि कार में सेट्रल लॉक लगा था। संभव है आग लगने के बाद सेंट्रल लॉक न खुला हो, जिससे नवीन बाहर नहीं निकल सका। फॉरेंसिक टीम को तुरंत सूचना देकर घटना स्थल पर बुलाया गया था। इसके बाद टीम ने साक्ष्य जुटाए थे। परिजनों का आरोप कार में जलाकर की गई हत्या घटना की सूचना मिलने पर नवीन के परिजन मौके पर पहुंचे।

नवीन के गाजियाबाद आने की परिवार को जानकारी नहीं थी

नवीन की बड़ी बहन दीक्षा का कहना है कि उनके भाई नवीन कुमार गाजियाबाद क्यों आए थे, किसी को जानकारी नहीं है। उन्हें कोई गाजियाबाद लेकर आया और रात में सुनसान इलाके में सड़क के किनारे कार में आग लगाकर जिंदा जला दिया। उनका कहना है कि हो सकता है पहले हत्या की गई हो इसके बाद हादसा दिखाने के लिए कार में आग लगाई गई हो। अक्सर आग लगने के बाद कार खड़ी कर लोग बाहर निकल जाते हैं। नवीन कुमार के भाई मनोज कुमार ने साहिबाबाद थाने में मामले में हत्या की आशंका जताते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। उनका कहना है कि नवीन की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। वह सबकी मदद करते थे।

हत्या का मुकदमा दर्ज

इस मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस पीड़ित के नंबर को सर्विलांस की मदद से मामले की जांच में जुटी है। -डॉ. राकेश कुमार मिश्रा, सीओ

Products You May Like

Articles You May Like

प्रयागराज में पीएम मोदी का ऐलान, अब श्रद्धालु किले में बंद अक्षयवट के कर सकेंगे दर्शन
संजय गांधी ने रखी थी मारुति की नींव, बचपने से ही थे इंजीनियर
Chamma Chamma Song: सलमान की फेवरिट बिग बॉस कंटेस्टेंट का डांस उड़ा देगा होश, ‘छम्मा छम्मा’ पर बरपाया कहर- Video
WhatsApp पर आया ये काम का फीचर, ऐसे आएगा आपके काम
भारत के पड़ोसी देशों से नजदीकी क्यों बढ़ा रहा चीन? संसद की समिति ने रिपोर्ट में किया खुलासा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *