गोवा की मनोहर पर्रिकर कैबिनेट से हटाए गए BJP विधायक फ्रांसिस डिसूजा ने कही यह बात…

बड़ी ख़बर

पणजी: मनोहर पर्रिकर नीत गोवा कैबिनेट से सोमवार को हटाए जाने पर नाखुशी जाहिर करते हुए भाजपा विधायक फ्रांसिस डिसूजा ने सवाल किया कि क्या 20 वर्ष तक पार्टी के साथ वफादारी निभाने का उन्हें यह सिला मिला है. मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने सोमवार की सुबह एक फैसले में अपने कैबिनेट के बीमार चल रहे दो मंत्रियों डिसूजा और पांडुरंग मडकईकर को बाहर कर दिया. फिलहाल अमेरिका के एक अस्पताल में भर्ती डिसूजा ने फोन पर बताया, ‘पार्टी के साथ 20 साल की वफादारी का मुझे यही सिला मिल रहा है.’

यह भी पढ़ें : गोवा में मनोहर पर्रिकर मंत्रिमंडल से हटाए गए दो मंत्री, जानिए वजह

डिसूजा पिछले 20 साल से लगातार उत्तरी गोवा जिले के मापुसा सीट से भाजपा की टिकट पर जीत रहे हैं. उनका दावा है कि कैबिनेट से बाहर का रास्ता दिखाने से पहले उन्हें विश्वास में भी नहीं लिया गया. शहरी विकास मंत्री के पद से हटाये गए डिसूजा का कहना है, ‘मैंने कल शाम ही मुख्यमंत्री से भी बात की थी, लेकिन उन्होंने कोई संकेत नहीं दिया. कैबिनेट से हटाये जाने की सूचना मिलने के बाद आज जब मैंने मुख्यमंत्री को फोन किया तब उन्होंने कहा कि यह पार्टी हाई कमान का फैसला है.’
 

felcdp4g

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का दिल्ली एम्स में चल रहा है इलाज.

Advertisement

डिसूजा के अलावा पर्रिकर कैबिनेट से बिजली मंत्री मडकईकर को भी हटाया गया है. जून में मस्तिष्काघात के बाद से बीमार चल रहे पूर्वमंत्री का मुंबई के अस्पताल में इलाज चल रहा है. इन दोनों की जगह आज शाम मिलिंद नाइक और निलेश काबराल को कैबिनेट में शामिल किया गया. डिसूजा ने दावा किया कि पार्टी पिछले एक साल से उन्हें कैबिनेट से हटाने की कोशिश में जुटी थी. ‘अंतत: उन्होंने ऐसा कर लिया.’ उन्होंने कहा, ‘उन्होंने आज मुझे कैबिनेट से हटा दिया. कल वह मुझे पार्टी से हटा देंगे. अब मैं उनके किसी काम का नहीं रहा.’

यह भी पढ़ें : गोवा संकट टला है खतरा अभी भी बना हुआ है

टिप्पणियां

कैबिनेट के वरिष्ठतम मंत्रियों में शामिल डिसूजा को 2014 में मुख्यमंत्री पद का दावेदार माना जा रहा था. उस दौरान पर्रिकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में रक्षा मंत्री के पद पर थे. बहरहाल, डिसूजा को उस दौरान भी मुख्यमंत्री का पद नहीं मिला. गोवा चुनाव के बाद लक्ष्मीकांत पारसेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री बन गए थे. 62 वर्षीय पर्रिकर लंबे समय से बीमार हैं और फिलहाल दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती हैं. 

(इनपुट : भाषा)

Products You May Like

Articles You May Like

एक्सटर्नल माइक्रोफोन सपॉर्ट के साथ आएगा पिक्सल कैमरा ऐप
गुजरात: भूतों से डरकर 5 बच्चों के साथ कुएं में कूदी महिला, चार बच्‍चों की मौत
कंगना रनौत ने एयरपोर्ट लुक पर खर्च कर दिए लाखों रुपए, इतने में आ जाती शानदार कार
HSSC ग्रुप D भर्ती: जानें कब होंगे एग्जाम
शर्मनाकः गैंगरेप पीड़ित है 16 साल की लड़की, इसलिए स्कूलों ने नहीं दिया दाखिला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *