चाणक्य नीतिः बहुत पुण्य और किस्मत से मिलती हैं ये 6 चीजें, चेक कीजिए आपके पास है

राशि


आचार्य चाणक्य ने बताया है कि कुछ चीजें जीवन में बहुत पुण्य और किस्मत से मिलती हैं। इनमें 6 चीजों के बारे में आचार्य चाणक्य ने इन श्लोकों में स्पष्ट किया है।  ‘भोज्यंभोजनशक्तिश्चतिशक्तिर्वराग्ना।। विभत्रोदानशक्तिश्चनाल्पस्यतसः फलम्।’ तो आइए जानें ये 6 चीजें क्या हैं और क्यों इनक मिलना भाग्य की निशानी है।

1/6किस्मत से मिलता है ऐसा भोजन

चाणक्य ने बताया कि अच्छा भोजन मिलना बेहतर जिंदगी की निशानी होती है। किस्मत वाले को ही अच्छा भोजन मिलता है।

2/6किस्मत के धनी होते हैं ऐसे लोग

बहुत से लोगों को अच्छा भोजन तो मिल जाता है लेकिन उनको पचाने की शक्ति नहीं होती। ऐसे लोग किस्मत के धनी नहीं होते हैं। अच्छे भोजन के साथ अच्छी पाचन शक्ति होना ही अच्छी किस्मत कहलाती है।

3/6पुण्य से मिलता है यह धन

चाणक्य ने बताया जिस इंसान के पास समझदार और गुणी स्त्री होती है, वह बहुत किस्मत वाले होते हैं। स्त्री का केवल सुंदर होना पर्याप्त नहीं है, वह किस तरह अपने साथ समझदारी से अपने आसपास के लोगों को लेकर चलती है, यह महत्वपूर्ण होता है।

4/6किस्मतवाले होते हैं ऐसे लोग

चाणक्य ने बताया कि अच्छी काम शक्ति होना भी किस्मत की बात है। लेकिन चाणक्य ने यह भी कहा कि काम शक्ति होने पर भी मनुष्य को काम के वश में नहीं होना चाहिए नहीं भाग्य को दर्भाग्य में बदलते देर नहीं लगती।

5/6सही निवेश है जरूरी

जिस व्यक्ति के पास धन और ऐशवर्य होता है, वह बहुत किस्मत वाले होता है। चाणक्य ने बताया है कि धन उन्हीं के पास रहता है, जो उसका सही प्रयोग करते हैं। सही कामों में पैसा निवेश करना चाहिए। यही धन की रक्षा के समान है।

6/6मान-सम्मान में होती है वृद्धि

परोपकार ही जीवन है। जो व्यक्ति जीवन में दान करता है, वह सच्चा पुण्यात्मा होता है। काफी लोग धन को अत्यधिक संग्रहित करके रखते हैं, उसका उपयोग नहीं करते हैं। जरूरत से ज्यादा पैसा बचाना अनुचित है। दान करने से इंसान के मान-सम्मान में वृद्धि होती है। दानी स्वभाव होना भी भाग्य की निशानी क्योंकि इससे इससे वर्तमान जीवन से साथ ही आने वाल जीवन भी बेहतर होता है।

Products You May Like

Articles You May Like

बढ़ते बैड लोन का असर: अब सरकारी परियोजनाओं के लिए केंद्रीय मंत्री भी नहीं दिला पा रहे लोन
Redmi 6 Pro बनाम Redmi Note 5 Pro: दोनों में कौन बेहतर?
ओडिशा में PM मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- तालचेर प्लांट अब हमारी सरकार की सफलता का प्रतीक बनेगा
पंचांग 21 सितंबर 2018: आज ही है श्रीवामन जयंती
2019 के लोकसभा चुनाव लड़ने को लेकर क्रिकेटर राहुल द्रविड़ ने दिया ये बयान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *