तमिलनाडु: भ्रष्टाचारी नेताओं के लिए विशेष कोर्ट

देश

सांकेतिक तस्‍वीर

चेन्‍नै

ऐसे समय में जब तमिलनाडु में जब कई दिग्‍गज नेता भ्रष्‍टाचार के आरोपों का सामना कर रहे हैं, राज्‍य सरकार ने चेन्‍नै में एक विशेष अदालत स्‍थापित करने का आदेश दिया है। इस कोर्ट के दायरे में पूरा प्रदेश होगा और यह सांसदों और विधायकों से जुडे़ आपराधिक मामले की सुनवाई करेगी। बताया जा रहा है कि यह कोर्ट फास्‍ट ट्रैक अदालतों की तरह होगी।

एक सरकारी सूत्र ने कहा, ‘यह कोर्ट फास्‍ट ट्रैक अदालतों की तरह होगी। इसके लिए विभिन्‍न जिलों से केसों को भेजने का काम शुरू हो गया है। इस कोर्ट के लिए हाई कोर्ट जल्‍द ही जमीन को अंतिम रूप दे सकता है।’ इस कोर्ट के लिए जजों की नियुक्ति के लिए अधिसूचना जारी की जाएगी। जजों के कार्यभार ग्रहण कर लेने के बाद प्रतिदिन मामलों की सुनवाई शुरू हो जाएगी।

राज्‍य के गृह सचिव निरंजन मर्दी ने केंद्रीय कानून मंत्रालय की ओर से कई बार रिमाइंडर जारी किए जाने के बाद यह आदेश जारी किया है। कानून मंत्रालय की ओर से सुप्रीम कोर्ट में दायर एक शपथ पत्र में कहा गया था कि राज्‍य के 178 सांसदों और विधायकों के खिलाफ तमिलनाडु की विभिन्‍न अदालतों में केस चल रहे हैं।

उदाहरण के लिए देखें तो डीएमके के वरिष्‍ठ नेता और त्रिची पश्चिम से विधायक केएन नेहरू के खिलाफ 11 मामले चल रहे हैं। इसमें अपहरण और धोखाधड़ी के मामले शामिल हैं। एडीआर के सर्वे के मुताबिक तमिलनाडु में विभिन्‍न दलों की ओर से घोषित किए उम्‍मीदवारों में से एक तिहाई के खिलाफ आपराधिक मामले चल रहे थे।

Products You May Like

Articles You May Like

ऑस्ट्रेलिया के घमंड को रौंदा, पाकिस्तान को धोया तो टीम इंडिया का तोड़ा था सपना, ‘चीते’ की तरह हमला करता है बांग्लादेश
फ्रांस्वा ओलांद अपने बयान पर कायम, कहा- मोदी सरकार में नए फॉर्मूले के तहत रिलायंस का नाम तय हुआ
India vs Bangladesh लाइव स्कोर: बांग्लादेश के 2 गेंदबाज टीम इंडिया के लिये बन सकते हैं खतरा, बाजी पलटने में हैं माहिर
इस साल रुपये में होगी 6-7 फीसदी की वास्तविक गिरावट: आईएमएफ
नकाबपोश बदमाशों ने एटीएम में ब्लास्ट करके लूट लिए लाखों रुपये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *