मनमर्जियां

फ़िल्म रिव्यू

‘लव ऐंड रिलेशनशिप्स आर कॉम्प्लिकेटेड’ यानी प्यार और रिलेशनशिप जटिल होते हैं, ये स्टेटस आपने दसियों बार कहीं न कहीं पढ़ा होगा। अनुराग कश्यप निर्देशित और आनंद एल. राय निर्मित ‘मनमर्जियां’ में इसी स्टेट्स को बहुत खूबसूरती और मच्योरिटी के साथ डील किया गया है। फिल्म की कहानी भले प्रेम त्रिकोण जैसे पुराने आइडिया के इर्द-गिर्द घूमती हो, मगर इन फिल्मकारों की स्टोरी टेलिंग का अंदाज नया और अनोखा है, जो हो सकता है कि परंपरागत सोच वाले दर्शकों के गले न उतरे, मगर फिर आपको समझना होगा कि अनुराग कश्यप जैसे बागी फिल्मकार ने परंपरा का निर्वाह कब किया है?

कहानी एक सरल नोट पर शुरू होती है, जहां रूमी (तापसी पन्नू) और विकी (विकी कौशल) एक-दूसरे के प्यार में गले तक इस कदर डूबे हैं कि जब भी मौका मिलता है, वे एक-दूसरे में समा जाने को आतुर रहते हैं। उनका प्यार देह की सीमाओं को पार कर चुका है। कहानी में ट्विस्ट तब आता है, जब एक दिन तापसी के बेडरूम में दोनों को घरवाले रंगे हाथों पकड़ लेते हैं। अब हालात ऐसे बन जाते हैं कि रूमी के घरवाले उस पर शादी का दबाव बनाते हैं। खिलंदड़ी और बेबाक रूमी मस्तमौला और गैरजिम्मेदार विकी के सामने फरमान जारी कर देती है कि वह अगले दिन अपने घरवालों को लेकर शादी की बात करने आए, मगर विकी इस स्थिति के लिए मच्योर नहीं हुआ है।

वह रूमी को गच्चा दे जाता है और नहीं आता। रूमी और विकी में इस बात को लेकर खूब लड़ाई होती है, मगर इस बीच विदेश से शादी के लिए आए हुए रॉबी (अभिषेक बच्चन) को जब रूमी का रिश्ता दिखाया जाता है, तो वह उसकी फोटो देखते ही उसके प्यार में पड़ जाता है। विकी से नाराज रूमी रॉबी के साथ शादी करने की हामी भर भी लेती है, मगर फिर विकी उसे अपने प्यार शिदद्त का वास्ता देकर मना लेता है और उसे घर से भागने के लिए मना लेता है। कमिटमेंट फोबिक विकी अभी उतना परिपक्व नहीं हुआ कि शादी जैसी जिम्मेदारी को निभा सके, इसलिए वह बार-बार जिम्मेदारी की बात आने पर मुंह मोड़ लेता है। अंततः रूमी रॉबी के नाम की मेहंदी लगा लेती है और अगले दिन उसकी शादी है, मगर अब विकी किसी भी हाल में रूमी को किसी और का नहीं होने देना चाहता। वे दोनों फिर भागने का प्लान बनाते हैं, मगर एक बार फिर विकी अपने वादे से पलट जाता है।

Manmarziyaan

तापसी पन्नू ने खरीदा मुंबई में फ्लैट

Loading

रूमी और रॉबी की शादी हो जाती है, मगर कहानी खतम नहीं होती। इन किरदारों का अंजाम क्या होता है, इसे जानने के लिए आपको सिनेमा हॉल जाना होगा। आनंद एल. राय निर्मित और अनुराग कश्यप निर्देशित मनमर्जियां आज के दौर के प्यार की उस व्याख्या को चित्रित करती है, जिससे कमोबेश आज का युवा गुजरता है। किरदारों के बोल्डनेस के मामले में आनंद एक कदम आगे बढ़े हैं, तो अनुराग उन्हें ट्रीट करते हुए नर्मी से पेश आए हैं। अनुराग ने किरदारों को सीक्वेंस और दृश्यों के साथ इस खूबी से गूंथा है कि आप उन्हें जज करने के बजाय उनके साथ बहते चले जाते हैं। अमृतसर की रहनेवाली रूमी और विकी का दैहिक प्यार आपको चौंकाता जरूर है, मगर कहीं न कहीं आप उनकी दुनिया का हिस्सा बन जाते हैं। निर्देशक के रूप में अनुराग इस फिल्म में एक अलग अंदाज में दिखे हैं। उन्हें कनिका ढिल्लन जैसी लेखिका का भी खूब साथ मिला है।

फिल्म के कई दृश्य ऐसे हैं, जो बेहद ही मजेदार बन पड़े हैं। वे आपको मल्टिपल इमोशंस का अहसास कराते हैं। आपको आखिर तक पता नहीं चल पाता कि रूमी किस तरफ जाएगी? क्लाइमैक्स बहुत ही प्यारा है।

अभिनय के मामले में ‘मनमर्जियां’ हर तरह से बीस साबित होती है। तापसी पन्नू आज के दौर की संवरी हुए अभिनेत्री हैं, मगर इस फिल्म को उनके करियर की उत्कृष्ट फिल्म कहना गलत न होगा। उन्होंने एक अनकन्वेंशनल किरदार को इतने कन्विंसिंगली जिया है कि आप उसके प्यार में पड़ जाते हैं। अभिषेक बच्चन की संयमित परफॉर्मेंस कहानी को खास बनाती है। शराब पीकर बार में नाचनेवाला दृश्य और क्लाइमैक्स में अभिषेक और तापसी का संवाद फिल्म का हाई पॉइंट साबित होता है।

विकी कौशल ने विकी के अपने किरदार को बखूबी जिया है, जिसे प्यार तो समझ में आता है , मगर जिंदगी और जिम्मेदारी नहीं। उनका फंकी लुक उनके किरदार को बल देता है। फिल्म की सहयोगी कास्ट भी मजबूत है। संगीत के मामले में सभी गाने सोलफुल हैं। अमित त्रिवेदी के संगीत में ‘हल्ला’, ‘ग्रे वाला शेड’, ‘डराया’ जैसे सभी गाने अच्छे बन पड़े हैं।

क्यों देखें: नए दौर की अनकन्वेंशनल रोमांटिक फिल्मों के शौकीन यह फिल्म देख सकते हैं।

Products You May Like

Articles You May Like

यहां हैं नौकरी के ढेरों ऑप्शंस, करें अप्लाई
Samsung के इस Galaxy स्मार्टफोन में हो सकते हैं 4 रियर कैमरे
राफेल डील की स्वतंत्र जांच कराने की मांग को लेकर CVC से मुलाकात करेगी कांग्रेस
जरुरी है पितरों की नाराजगी से बचना, झेलनी पड़ती हैं ऐसी मुसीबतें
मुहर्रम: ताजिये का तैमूर कनेक्शन, जानें इतिहास

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *