हिंदू शब्द को ‘अछूत’ और ‘असहनीय’ बनाने की कोशिश कर रहे हैं कुछ लोग: नायडू

दुनिया

शिकागो: उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने रविवार को कहा कि कुछ लोग हिंदू शब्द को ‘‘अछूत’’ और ‘‘असहनीय’’ बनाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने हिंदू धर्म के सच्चे मूल्यों के संरक्षण की जरूरत पर जोर दिया ताकि ऐसे विचारों और प्रकृति को बदला जा सके जो ‘‘गलत सूचनाओं’’ पर आधारित हैं. यहां दूसरी विश्व हिंदू कांग्रेस को संबोधित करते हुए नायडू ने कहा कि भारत सार्वभौमिक सहनशीलता में विश्वास करता है और सभी धर्मों को सच्चा मानता है. 

मॉब लिंचिंग पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू की कड़ी टिप्पणी, ‘भीड़ हत्या में लिप्त लोग खुद को राष्ट्रवादी नहीं कह सकते’

टिप्पणियां

हिंदू धर्म के अहम पहलुओं को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि ‘‘साझा करना’’ और ‘‘ख्याल रखना’’ हिंदू दर्शन के मूल तत्व हैं, नायडू ने अफसोस जताया कि (हिंदू धर्म के बारे में) काफी गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं. उन्होंने कहा, ‘‘कुछ लोग हिंदू शब्द को ही अछूत और असहनीय बनाने की कोशिश कर रहे हैं. 

Advertisement

VIDEO: नायडू की किताब के विमोचन के मौके पर PM मोदी-मनमोहन एक मंच पर​
उन्होंने कहा कि व्यक्ति को विचारों को सही परिप्रेक्ष्य में देखकर प्रस्तुत करना चाहिए, ताकि दुनिया के सामने सबसे प्रामाणिक परिप्रेक्ष्य पेश हो पाए.

Products You May Like

Articles You May Like

ये छोटे-छोटे वास्‍तु टिप्‍स आपके बड़े काम भी कर देंगे आसान, आजमाकर देखें…
पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के आवेदन पर अदालत ने ईडी से मांगा जवाब
अगस्ता वेस्टलैंड केस में भारत को बड़ी कामयाबी, बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण का आदेश
बाबुल सुप्रियो ने दी टांग तोड़ने की धमकी, अगस्ता वेस्टलैंड मामले में भारत को कामयाबी, 5 बड़ी खबरें
परिवर्तिनी एकादशी 2018: यहां जानें व्रत का महत्व, कथा और पूजा विधि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *