IIT Bombay के दीक्षांत समारोह में बोले पीएम मोदी: बेस्ट आइडिया सरकारी भवनों से नहीं, यंगस्टर के माइंड से निकल कर आते हैं

बड़ी ख़बर

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज आईआईटी बॉम्बे के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए. आईआईटी बॉम्बे के 56वें दीक्षात समारोह के मौके पर पीएम मोदी ने डिग्री पाने वाले देश-विदेश के विद्यार्थियों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि स्टार्ट-अप की जिस क्रांति की तरफ देश आगे बढ़ रहा है, उसका एक बहुत बड़ा सोर्स हमारे IIT हैं. यहां से निकले तमाम छात्र-छात्राएं देश के विकास में सहयोग कर रहे हैं. आगे उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आपको अब एक हज़ार करोड़ रुपए की आर्थिक मदद मिलने वाली है जो आने वाले समय में यहां इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास में काम आने वाला है. आगे उन्होंने कहा कि बीते 6 दशकों की निरंतर कोशिशों का ही परिणाम है कि आईआईटी बॉम्बे ने देश के चुनिंदा Institutions of Eminence में अपनी जगह बनाई है.

पीएम मोदी ने कहा कि आईआईटी ने दुनिया भर में भारत का ब्रांड बनाया है. आईआईटी छात्र भारत में कुछ बेहतरीन स्टार्टअप में सबसे आगे हैं. IIT Bombay के दीक्षांत समारोह में पीएम मोदी ने यह भी कहा कि बेस्ट आइडिया सरकारी भवनों से नहीं, यंगस्टर के माइंड से निकल कर आते हैं. 

Advertisement

पीएम मोदी ने कहा कि आईआईटी को देश और दुनिया इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के रूप में जानती है, लेकिन आज हमारे लिए इनकी परिभाषा थोड़ी बदल गई है. ये सिर्फ टेक्नोलॉजी की पढ़ाई से जुड़े स्थान भर नहीं रह गए हैं, बल्कि IIT आज इंडियाज़ इंस्ट्रूमेंट ऑफ ट्रांसफॉर्मेशन बन गए हैं. पीएम मोदी ने कहा कि भारत को एक विकसित अर्थव्यवस्था बनाने के लिए इनोवेशन और इंटरप्राइज आधारशिला बनने जा रहे हैं.

आगे उन्होंने कहा कि आज मैं अपने सामने, आपके भीतर, आपके चेहरे पर जो उत्साह देख रहा हूं, वो आश्वस्त करने वाला है कि हम सही राह पर आगे बढ़ रहे हैं. यहां से निकले तमाम छात्र-छात्राएं देश के विकास में सहयोग कर रहे हैं. आपको अब एक हजार करोड़ रुपए की आर्थिक मदद मिलने वाली है, जो आने वाले समय में यहां इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास में काम आने वाला है. पीएम मोदी ने कहा कि यहां के स्टूडेंट्स भारत की विविधता को बयां करते हैं. 

टिप्पणियां

पीएम मोदी ने कहा कि इनोवेशन 21 वीं शताब्दी का गूढ़ शब्द है. जो समाज जो इनोवेशन नहीं करता है, स्थिर हो जाएगा. भारत स्टार्ट-अप के लिए एक केंद्र के रूप में उभर रहा है जो इनोवेशन के लिए प्यास और जरूरत को दिखाता है. हमें भारत को नवाचार और उद्यम के लिए सबसे आकर्षक गंतव्य के रूप में बनाना चाहिए.

Products You May Like

Articles You May Like

स्वतंत्रता दिवस पर मुफ्त इलाज की स्वास्थ्य बीमा योजना का तोहफा दे सकते हैं पीएम मोदी
अटल बिहारी वाजपेयी को आम्रपाली दुबे ने दी श्रद्धांजलि, निरहुआ भी हुए इमोशनल
Xiaomi Poco F1 की बिक्री होगी फ्लिपकार्ट पर
मणिशंकर अय्यर का कांग्रेस में ‘वनवास’ खत्म, एंगेजमेंट पार्टी में जमकर नाचीं प्रियंका चोपड़ा, अब तक की 5 बड़ी खबरें
राशिफल 20 अगस्तः इन 7 राशियों के लिए खुशियां लाया है सप्ताह का पहला दिन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *