हादसे में मृत कारोबारी के परिवार को 1.22 करोड़ रुपये का मुआवजा देने का आदेश

बड़ी ख़बर

नई दिल्ली: मोटर दुर्घटना दावा न्यायाधिकरण (एमएसीटी) ने 2014 में हरियाणा में सड़क दुर्घटना में मारे गए एक कारोबारी के परिजन को 1.22 करोड़ रुपये का मुआवजा देने का आदेश दिया है. 

एमएसीटी के पीठासीन अधिकारी अमित बंसल ने दुर्घटना के लिए जिम्मेदार वाहन के बीमाकर्ता इफको-टोक्यो जनरल इंश्यारेंस कंपनी लिमिटेड को मृतक के परिवार को 1,22,44,374 रुपये भुगतान करने का निर्देश दिया. इसमें 89,05,000 रुपये मुआवजा और 33,39,374 रुपये ब्याज है. 

न्यायाधिकरण ने दिल्ली निवासी राजेश जैन के परिवार को मुआवजा प्रदान करने का आदेश दिया. अपनी फैक्टरी से लौटते वक्त पांच जनवरी 2014 को जैन दुर्घटना का शिकार हो गए थे. जैन की पत्नी की शिकायत के मुताबिक हरियाणा के समलखा में एक ट्रक ने उनकी कार को पीछे से टक्कर मार दी. 

टिप्पणियां

VIDEO : नए मोटर विधेयक को मंजूरी

Advertisement

न्यायाधिकरण ने कहा कि दोनों पक्षों की बहस और रिकॉर्ड पर रखे गए सबूत के मद्देनजर साबित होता है कि लापरवाही से ट्रक चला रहे ड्राइवर के कारण दुर्घटना हुई. मृतक के परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटे और उनके अभिभावक हैं. आरोपी ट्रक ड्राइवर के पास वैध ड्राइविंग लाइसेंस होने के तथ्य पर विचार करते हुए न्यायाधिकरण ने बीमा कंपनी को मुआवजा अदा करने का आदेश दिया.
(इनपुट भाषा से)

Products You May Like

Articles You May Like

फरीदाबाद में भी हुआ ‘बुराड़ी कांड’, पूरे परिवार ने फांसी लगाकर जान दी
भारत की ब्रह्मोस मिसाइल से मुकाबले के लिए चीन से सुपरसोनिक खरीद सकता है पाकिस्तान
Xiaomi Mi Mix 3 में होगा स्लो मोशन विडियो रिकॉर्ड फीचर
भारत, ईरान, अफगानिस्तान चाबहार बंदरगाह परियोजना पर पहला त्रिपक्षीय वार्ता की
Amritsar Train Accident: अमृतसर में लोगों को रौंदती हुई निकली ट्रेन, बॉलीवुड डायरेक्टर बोले- इस पर न करें राजनीति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *