यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी ने मोदी सरकार पर किया हमला, कहा- मंत्रालयों के निर्णयों को नियंत्रित कर रहा है पीएमओ

ताज़ातरीन

नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्रियों यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी व भाजपा के असंतुष्ट नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने नरेंद्र मोदी सरकार एक बार फिर हमला बोला है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार मंत्रालयों के निर्णयों को भी नियंत्रित कर रहा है पीएमओ. गौरतलब है कि लोकतंभ बचाओ, संविधान बचाओ विषय पर आयोजित एक परिचर्चा पर बोल रहे थे. इस दौरान यशवंत सिन्हा ने दावा किया कि राजग सरकार में निर्णय अकेले ही लिये जा रहे हैं.उन्होंने राजनाथ सिंह का नाम लिये बिना दावा किया कि गृह मंत्री को जम्मू कश्मीर में पीडीपी के साथ गठबंधन से हटने के भाजपा के निर्णय के बारे में जानकारी भी नहीं थी. उन्होंने कहा कि इसी तरह से वित्त मंत्री को जानकारी नहीं थी कि नोटबंदी की घोषणा होने जा रही है.

यह भी पढ़ें: भाजपा आज ‘मोदी सरकार’ बन गई है : यशवंत सिन्‍हा

Advertisement

टिप्पणियां


राफेल लड़ाकू विमान सौदे को ‘‘35 हजार करोड़ रूपये का घोटाला बताया जो कि 64 करोड़ रूपये के बोफोर्स घोटाले से कहीं बड़ा है.शौरी ने आरोप लगाया कि निश्वित रूप से संविधान और लोकतंत्र खतरे में है. अभी तक पीट पीटकर मार डालने की 72 घटनाएं हुई हैं, सोहराबुद्दीन (फर्जी मुठभेड़) मामले में 54 गवाह पलट चुके हैं.सीबीआई का दुरूपयोग किया जा रहा है.ऐसी उम्मीद नहीं लगती कि चीजें बदलेंगी.

VIDEO: नए विवाद में घिरे जयंत सिन्हा.

उन्होंने कहा कि मीडिया भयभीत है क्योंकि उसका विज्ञापन बंद हो सकता है.सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि वह अपने से भाजपा नहीं छोड़ेंगे. उन्होंने कहा कि हालांकि यदि वे मुझे बाहर करना चाहें तो मैं उनके विवेक पर सवाल नहीं उठाऊंगा. (इनपुट भाषा से) 

Products You May Like

Articles You May Like

पंजाब में दुर्घटना के बाद जालंधर-अमृतसर मार्ग पर रेल सेवा बाधित
दिल्ली के ओल्ड सीलमपुर में दो गुटों में जमकर मारपीट, लहराये असलहे, पुलिस बनी रही मूकदर्शक
Dussehra 2018 : दिल्ली के लव-कुश रामलीला में शामिल हुए प्रेसिडेंट कोविंद और PM मोदी, लोगों को दी यह सीख, देखें वीडियो
Jio Effect: यूं कम होता जा रहा है 2जी फीचर फोन का मार्केट
अमृतसर ट्रेन हादसे में खुलासा: पुलिस ने दी थी ‘रावण दहन’ कार्यक्रम के लिए NOC, जानें घटना से जुड़ी 10 बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *