पीएम मोदी बोले, तीन गुना बढ़ाएंगे एथेनॉल का उत्पादन, बचेंगे 12,000 करोड़ रुपये

बिज़नेस

नई दिल्ली

पीएम नरेंद्र मोदी ने अगले 4 सालों में एथेनॉल के प्रॉडक्शन को तीन गुना तक बढ़ाने का लक्ष्य तय किया है। पीएम मोदी का कहना है कि गन्ने के अवशेष को पेट्रोल में मिला जाने से देश के तेल आयात करने का बिल 12,000 करोड़ रुपये तक कम हो सकेगा। उन्होंने कहा कि यह देश के लिए बड़ी बचत होगी और किसानों की आय में भी इजाफा हो सकेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि पेट्रोल में एथेनॉल मिलाने के कार्यक्रम को पिछली सरकारों ने गंभीरता से नहीं लिया, जबकि इससे पेट्रोलियम आयात में बड़ी बचत हो सकती है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि अब इस जैव ईंधन का उत्पादन बढ़ाया जा रहा है और यह चार साल में तीन गुना बढ़ कर 450 करोड़ लीटर के स्तर पर पहुंच जाएगा। इससे आयात में 12,000 करोड़ रुपये की बचत होगी। मोदी यहां विश्व जैवईंधन दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, ‘एथेनॉल मिश्रण कार्यक्रम वाजपेयी सरकार के समय शुरू किया गया था। लेकिन पिछली सरकारों ने एथेनॉल कार्यक्रम को गंभीरता से नहीं लिया। अब हम अगले चार साल में 450 करोड़ लीटर एथेनॉल का उत्पादन करेंगे जो इस समय 141 करोड़ लीटर है। इससे आयात में 12,000 करोड़ रुपये की बचत होगी।’

अपनी जरूरतें पूरी करने के लिए भारत को 80 प्रतिशत तक खनिज तेल आयात करना पड़ता है। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर परियोजनाओं को पर्यावरण विभाग की मंजूरी के काम में तेजी लाने के लिए तैयार किए गए वेब पोर्टल ‘‘परिवेश’’ का उद्घाटन किया। मोदी ने इस अवसर पर राष्ट्रीय जैव ईंधन नीति का अनावरण भी किया। भारत नवीकरणीय स्रोतों से बिजली उत्पादन के साथ-साथ जैव ईंधन के उत्पादन पर भी बल दे रहा है ताकि कच्चे तेल के आयात पर होने वाले मोटे खर्च को कम किया जा सके।


स्थापित होंगी बॉयो-फ्यूल की 12 रिफाइनरीज


प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में 10,000 करोड़ रुपये का निवेश कर जैव ईंधन की 12 रिफाइनरी स्थापित करने की योजना बनाई गई है। उन्होंने कहा कि सरकार 2022 तक पेट्रोल में 10 प्रतिशत एथेनॉल मिश्रण का लक्ष्य हासिल करेगी और इसे बढाकर 2030 तक 20 प्रतिशत करने का लक्ष्य है। मोदी ने कहा कि इसमें से प्रत्येक रिफाइनरी 1000-1500 लोगों के लिए रोजगार के अवसर सृजित करेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि जैव ईंधन का इस्तेमाल बढ़ने से किसानों की आय बढ़ेगी और देश में रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे।


जल्द ही सड़को पर एथेनॉल से दौड़ेंगे वाहन


उन्होंने यह भी कहा कि देश में 175 गैस-सीएनजी संयंत्र लगाए जा चुके हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि लोग सड़कों पर जल्दी ही इस ईंधन से चलने वाले वाहन दौड़ते देखेंगे। इस अवसर पर उन्होंने देश में किसानों की आय बढ़ाने की अपनी सरकार की पहलों का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि सरकार ने 14 फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य लागत का 1.5 गुना तय किया है।

Products You May Like

Articles You May Like

3 साल की मासूम बच्ची के साथ बस कंडक्टर ने की दरिंदगी
₹4,499 की EMI पर खरीदें Apple iPhone XS, जानें कैसे
Intex Staari 11 लॉन्च, दो सेल्फी कैमरे हैं इसमें
तो क्या भारत में ज्यादा शराब पीने लगे हैं लोग…
पार्टनर से ‘धोखा’, पॉर्न साइट पर डाला विडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *