जनगणना: साल 1921 अहम क्यों, जानें खास बातें

शिक्षा

दुनिया के किस देश से या कब जनगणना की शुरुआत हुई यह कहना मुश्किल है लेकिन इतिहासकारों का मानना है कि जनगणना प्राचीन काल में भी होती रही है। दुनिया में सबसे पहले रोम में जनगणना का प्रमाण मिलता है। भारत में अगर जनगणना की बात की जाए तो कौटिल्य के ग्रंथों में इसका उल्लेख मिलता है। वैसे नियमित रूप से जनगणना का काम अंग्रेजों के दौर में शुरू हुआ।

पहली जनगणना 1872 में की गई थी उस समय भारत के वायसराय लॉर्ड मेयो थे।

जनगणना का नियमित काम 1881 में शुरू हुआ। उस समय भारत के वायसराय लॉर्ड रिपेन थे।

1872 से अब तक कुल 15 बार और आजाद भारत में 7 बार जनगणना हो चुकी है।

आखिरी बार 2011 में जनगणना हुई थी और अगली जनगणना 2021 में होगी।

जनगणना हर 10 सालों में होती है।

Products You May Like

Articles You May Like

आपका फेस्टिव बजट बिगाड़ सकता है गिरता रुपया
बॉलीवुड के नए पोस्टरबॉय बने विक्की कौशल, बोले- अच्छे रोल के लिए अगर डायरेक्टर…
दिव्यांका त्रिपाठी को मिली पेट भर खाने की ऐसी सजा, 10 लाख बार देखा गया Video
RPF: 10000 भर्तियां जल्‍द, महिलाओं को आरक्षण
NDTV की खबर का असर : दादरी में एक ही पैटर्न पर 5 लोगों को गोली मारने वाली घटना में तीन गिरफ्तार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *