जनगणना: साल 1921 अहम क्यों, जानें खास बातें

शिक्षा

दुनिया के किस देश से या कब जनगणना की शुरुआत हुई यह कहना मुश्किल है लेकिन इतिहासकारों का मानना है कि जनगणना प्राचीन काल में भी होती रही है। दुनिया में सबसे पहले रोम में जनगणना का प्रमाण मिलता है। भारत में अगर जनगणना की बात की जाए तो कौटिल्य के ग्रंथों में इसका उल्लेख मिलता है। वैसे नियमित रूप से जनगणना का काम अंग्रेजों के दौर में शुरू हुआ।

पहली जनगणना 1872 में की गई थी उस समय भारत के वायसराय लॉर्ड मेयो थे।

जनगणना का नियमित काम 1881 में शुरू हुआ। उस समय भारत के वायसराय लॉर्ड रिपेन थे।

1872 से अब तक कुल 15 बार और आजाद भारत में 7 बार जनगणना हो चुकी है।

आखिरी बार 2011 में जनगणना हुई थी और अगली जनगणना 2021 में होगी।

जनगणना हर 10 सालों में होती है।

Products You May Like

Articles You May Like

Bigg Boss 12: करणवीर बोहरा की जुड़वा बेटियों की स्माइल देखकर कह बैठेंगे Soo Cute! देखें Video
डीजीएफटी ने अमृतसर, गोवा, पुदुचेरी क्षेत्रीय कार्यालयों को बंद किया
News Flash : श्रीलंका के पीएम विक्रमसिंघे और पीएम मोदी के बीच आज विभिन्न मुद्दों पर होगी बातचीत
रूस ने परमाणु संधि से हटने की योजना पर डोनाल्ड ट्रंप को दी वार्निंग
AIIMS PG 2019 जुलाई के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *