OnePlus 6 पहली झलक में…

मोबाइल रिव्यू

OnePlus ने आखिरकार OnePlus 6 स्मार्टफोन से पर्दा उठा दिया है। बीते 6 महीने से कंपनी ज़ोरदार ढंग से OnePlus 6 के लिए माहौल बनाती नज़र आ रही थी। पिछले साल OnePlus 5 पहला ऐसा फोन था, जो क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 835 प्रोसेसर से लैस था। वहीं, 5T ने इसे 18:9 स्क्रीन से रिप्लेस किया। अब वक्त आया है OnePlus 6 का, जो नए लुक, नए प्रोसेसर और नए डिस्प्ले से लैस होकर आया है।

बदलाव का सिलसिला यहीं खत्म नहीं होता, OnePlus 6 के रियर में ग्लास दिया गया है। OnePlus  वायरलेस चार्जिंग को सपोर्ट करता है। साथ ही यूज़र को 3 अलग तरह के ग्लास में से चुनने का विकल्प मिलता है। कंपनी को उम्मीद है कि इसमें से मिडनाइट ब्लैक विकल्प ख़ासा लोकप्रिय रहेगा। इसमें मैट टेक्सचर कोटिंग वाला फील है। हर कोई, इसे देखते ही ज़रूर छूना चाहेगा। इस पर बाहरी चमक पड़ते ही ग्लास का अलग पैटर्न यूज़र को दिखने लगता है।

दूसरा विकल्प भी ब्लैक है, जिसे मिरर ब्लैक नाम दिया गया है। इसका पॉलिश्ड व्यू निश्चित तौर पर आंखों को आकर्षित करेगा। (अगर आप फोन को बिना कवर के चलाने का फैसला करते हैं) यह काफी हद तक आपको ऐप्पल के ब्लैक व जैट विकल्प वाले iPhone 7 की याद दिलाएगा। तीसरा विकल्प सिल्क व्हाइट है। इसमें रोज़ गोल्ड फ्रेम दिया गया है, जो अलग हटकर है। रियर पैनल का टेक्सचर यूनीक है, जो टच जितना सॉफ्ट है।
 

oneplus6

OnePlus ने अब तक ऑनलाइन सेल को ही ज्यादा तवज्ज़ो देती रही है। लेकिन हम सुझाव देंगे कि आप खरीदने से पहले एक बार ऑफलाइन स्टोर ज़रूर विज़िट करें। दोनों ब्लैक विकल्प या तो 64 जीबी स्टोरेज वेरिएंट के साथ भारत आएगा या फिर 128 जीबी स्टोरेज के साथ। सिल्क व्हाइट विकल्प बाद में दस्तक देगा। तीनों के फ्रंट व बैक पर कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 दिया गया है।

फ्रंट में नॉच है। टीज़र के हिसाब से फोन का फ्रंट बिल्कुल भी अलग नहीं है। इसमें कोई हैरानी नहीं है कि नॉच जैसे पहलू सभी के मतलब के हों। सकारात्मक बात यह है कि स्क्रीन बड़ी है बॉर्डर पतले हैं। नॉच में मल्टी-कलर स्टोटस एलईडी है।

एमोलेड स्क्रीन ब्राइट और पंची है। शुरुआती इंप्रेशन में ऐप और वॉलपेपेर शानदार दिख रहे थे लेकिन ‘सबकुछ कितना बेहतर है’, यह जानने के लिए आपको हमारे विस्तार से किए जाने वाले रिव्यू का इंतज़ार करना होगा। वनप्लस 6 स्लिम है और आसानी से हाथ में आने वाला फोन है। हालांकि, सिर्फ अंगूठे के दम पर फोन के सभी किनारों पर पहुंचना मुश्किल है।

एक जानकारी लंबे समय से OnePlus यूज़ कर रहे लोगों को परेशान कर सकती है। कंपनी ने अलर्ट स्लाइडर को लेफ्ट से राइट में कर दिया है। शुक्र है, OnePlus 6 में 3.5 मिलीमीटर का ऑडियो सॉकेट है, जो ठीक यूएसबी-टाइप सी पोर्ट के पास दिया गया है। यहीं मोनो स्पीकर बटन भी हैं। डुअल नैनो सिम ट्रे से इशारा मिलता है कि फोन में स्टोरेज बढ़ाने का विकल्प शामिल नहीं है।

फिंगरप्रिंट सेंसर गोल नहीं है, इसे कैमरा मॉड्यूल के नीचे दिया गया है। मॉड्यूल में दिया गया रिम प्रोटेक्शन के लिहाज़ से मज़बूत नहीं है। यह समस्या हमें OnePlus 5 में भी आई थी, जिसे कंपनी ने OnePlus 5T में सुधारा भी था। फिर पता नहीं क्यों, कंपनी ने इसे OnePlus 6 में कंटिन्यू किया।

यह पहला भारत में निर्मित फोन है, जो क्वालकॉम के टॉप स्नैपड्रैगन 845 प्रोसेसर के साथ आता है। इस प्रोसेसर के साथ फोन की कीमत फिर भी Samsung, Huawei और Apple के फ्लैगशिप से कहीं कम हैं। फोन में 3300 एमएएच की बैटरी है, जो डैश चार्ज के साथ आती है।

फ्रंट कैमरे के लिए 4के सपोर्ट है और 720 पिक्सल 480 फ्रेम प्रति सेकंड का स्लो मोशन मोड है। OnePlus 6 के कैमरों को हम स्टिल व वीडियो के लिए टेस्ट ज़रूर करेंगे। हम उत्सुकता के साथ स्नैपड्रैगन 845 की सीमाएँ जानना चाहेंगे। अभी से फोन की बैटरी को लेकर कुछ कहना जल्दबाज़ी होगी। OnePlus 6 के बारे में ‘सबकुछ’ विस्तार से जानने के लिए हमारे विस्तृत रिव्यू का इंतज़ार करें।

Products You May Like

Articles You May Like

साप्ताहिक अंकज्योतिष(13 से 19 अगस्त): नई ऊंचाइयां लाया है यह सप्ताह
जानिए 15 अगस्‍त को ही क्‍यों मिली थी आजादी
पवन सिंह ने खेतों में लहराया तिरंगा, YouTube पर ये देशभक्ति गाना हुआ सुपरहिट… देखें Video
साल का अंतिम सूर्य ग्रहण, देखें आपकी राशि पर कैसा रहेगा प्रभाव
लाल क़िला से PM मोदी कल करेंगे ‘मोदी केयर’ का एलान, 50 करोड़ लोगों को मिलेगी कैशलेस सुविधा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *