इसरो ने किया संचार उपग्रह जीसैट-18 का सफल प्रक्षेपण

भारत के संचार उपग्रह जीसैट-18 का गुरुवार तड़के सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया गया। इसे फ्रेंच गुयाना के कारू से प्रक्षेपित किया गया। इसे फ्रांस की कंपनी ‘एरियनस्पेस’ के एरियन 5 के प्रक्षेपण यान से प्रक्षेपित किया गया।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र (इसरो) के मुताबिक, कर्नाटक के हासन में इसकी मास्टर कंट्रोल फैसिलिटी (एमसीएफ) ने जीसैट-18 का दारोमदार संभाला। इसरो के मुताबिक, उपग्रह को भूस्थिर कक्षा में स्थापित किया गया।

जीसैट-18 देश का नवीनतम संचार उपग्रह है। इसमें 48 ट्रांसपोंडर्स हैं जो संचार सिग्नलों को भेजते और प्राप्त करते हैं। यह 3,404 किलोग्राम का उपग्रह सामान्य सी-बैंड, विस्तृत सी-बैंड और कू-बैंड्स पर सेवाएं देगा।

‘एरियनस्पेस’ के अध्यक्ष स्टीफन इजरायल ने जारी बयान में कहा, एरियनए5 ने इस साल पांचवी बार बेहतरीन काम किया है और यह लगातार 74वीं सफलता है। गौरतलब है कि जीसैट-18 को बुधवार को प्रक्षेपित किया जाना था लेकिन खराब मौसम की वजह से इसे एक दिन के लिए स्थगित कर दिया गया था।

Products You May Like

Articles You May Like

यहां हैं नौकरी के मौके, करें आवेदन
बैंकों का एक लाख करोड़ से ज्यादा घोटाले की भेंट चढ़ा, 4 साल में 19 हजार मामले दर्ज
2019 लोकसभा चुनाव में AAP करेगी कांग्रेस से गठबंधन? क्या होंगे इसके मायने
मेष की लव लाइफ के लिए कैसा रहेगा 2019, देखें राशिफल
वॉट्सऐप पर जल्द आने वाले हैं 7 नए फीचर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *