लॉकडाउन में जहां तक फंसे लोग, राज्य सरकारें हुईं ऐक्टिव

देश
सुशील मोदी और योगी आदित्यनाथसुशील मोदी और योगी आदित्यनाथ

लखनऊ

कोरोना वायरस की वजह से हुए लॉकडाउन से जहां तहां फंसे अपने लोगों की सुरक्षा और जरूरतों को पूरा करने के लिए राज्य सरकारें ऐक्टिव हैं। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और बिहार उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपने लोगों ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी। बता दें कि लॉकडाउन के ऐलान के बाद से तमाम फैक्ट्रियां बंद हैं और ढेरों लोगों के पैदल ही अपने घर की ओर निकलने की खबरें सामने आ रही थीं।

कोरोना लड़ाई में जुटे हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिहार समेत देश के तमाम राज्यों के लोगों से बातचीत की है और उन्हें आश्वासन दिलाया है कि उनके लोगों का प्रदेश में ख्याल रखा जाएगा। साथ ही उन्होंने उन प्रदेशें में रह रहे अपने लोगों के ख्याल रखने की अपील भी की है। उन्होंने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी भी दी है।

उन्होंने लिखा- वाराणसी सहित प्रदेश के विभिन्न तीर्थ स्थानों पर फंसे अन्य राज्यों यथा गुजरात आदि के तीर्थ यात्रियों के लिए भी भोजन व सुरक्षा आदि की व्यवस्था सुनिश्चित किए जाने के लिए संबंधित अधिकारियों को यथोचित निर्देश दिए हैं।

सभी को सुरक्षित भेजा जाएगा घर

उन्होंने बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशल मोदी से हुई बातचीत के बारे में लिखा- बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशल मोदी से वार्ता कर उन्हें आश्वस्त किया कि बिहार राज्य जाने वाले सभी व्यक्तियों का पूरा ख्याल रखा जाएगा और सभी को सुरक्षित उनके गंतव्य स्थल तक भेजा जाएगा। वहीं, सुशील मोदी ने लिखा- यूपी, गुजरात, उत्तराखंड, हरियाणा, महाराष्ट्र, तेलगाना और पंजाब से बात हुई। उन्होंने हमें बिहार के लोगों के ख्याल रखने और जरूरतों को पूरा करने का आश्वासन दिया है।

योगी ने दूसरे ट्वीट में लिखा- कोरोना के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति के चलते उत्तराखंड राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से बातचीत कर उन्हें आश्वस्त किया कि उत्तराखंड के सभी निवासियों के भोजन और उनके संरक्षण की व्यवस्था उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा की जाएगी।

एक अन्य ट्वीट में योगी ने लिखा- कोरोना वायरस महामारी के कारण बनी परिस्थितियों में हरियाणा में मौजूद उत्तर प्रदेश के प्रत्येक नागरिक की सुविधा के संबंध में आज हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से वार्ता हुई। उन्होंने आश्वस्त किया कि हर व्यक्ति की सुविधा-सुरक्षा सुनिश्चित की जा रही है। दूसरी ओर, हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भी लिखा- कोरोना योद्धा बनकर जो नागरिक इस संक्रमण के खिलाफ लड़ रहे हैं, उन सभी का मैं दिल से शुक्रिया करता हूं और यह भी आग्रह करता हूँ कि ये लड़ाई हमें अभी जारी रखनी है। लॉकडाउन को देखते हुए हर नागरिक की मूलभूत आवश्यकताओं का सरकार पूरा ख्याल रख रही है।

लखनऊ से यूं भेजा गया घर

गुरुवार शाम करीब 200 लोगों की भीड़ गोरखपुर और आजमगढ़ जाने के लिए चारबाग बस अड्डे पहुंची। उन्हें जब बसें न चलने की जानकारी मिली तो वह हंगामा करने लगे। जानकारी पर एमडी राज शेखर ने जिला प्रशासन से बात कर तीन बसें चलाने की अनुमति लेकर उन्हें रवाना किया। एआरएम काशी प्रसाद ने एमडी को बताया कि करीब 120 यात्री गोरखपुर और 80 यात्री आजमगढ़ की तरफ जाने के लिए हंगामा कर रहे हैं। इसके बाद एमडी ने जिला प्रशासन के अफसरों से बात की। अनुमति पर यात्रियों के हाथों को सैनिटाइज करवाने के बाद बसें रवाना की गईं।

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोनोवायरस के प्रसार से निपटने के लिए 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी। पीएम ने कहा है कि कोरोना से निपटने का एक मात्र उपाय है वह है सामाजिक दूरी के नियम का पालन करना।

Articles You May Like

लॉकडाउन में आस्था
Covid 19 से जंग के लिए चीन मेडिकल उपकरण से करेगा भारत की मदद, तो बॉलीवुड प्रोड्यसर बोले- दवाइयां बेच कर पैसे लूटेगा…
पहले कटौती, अब मार्च के वेतन का एक हिस्सा अप्रैल के वेतन में देगी गोएयर
शाहरुख खान की ‘रईस’ की एक्ट्रेस ने पाकिस्तान के पीएम राहत कोष में किया दान, बोलीं- किसी की क्षमता कई बार…
14 अप्रैल को अंबेडकर जयंती : पढ़ें बाबा साहेब के 20 अमूल्य विचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *