रिजर्व बैंक ने कोरोना वायरस संकट बढ़ने पर ‘वार रूम’ में कर्मचारियों की संख्या बढ़ायी

बिज़नेस
NBT

मुंबई, 22 मई (भाषा) भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने कोरोना वायरस महामारी के लंबा खिंच जाने के मद्देनजर काम के बढ़े दबाव को देखते हुये अपने विशेष कक्ष (वार रूम) में तैनात कर्मचारियों की संख्या बढ़ाकर 150 कर दी है। यह कक्ष सीमित कर्मचरियों के साथ यहां किसी अज्ञात स्थान पर 19 मार्च से काम कर रहा है। यह आरबीआई के आकस्मिक काम-काज योजना (बीसीपी) का हिस्सा है। इसमें अभी तक सिर्फ 120 सबसे महत्वपूर्ण कर्मचारी काम कर रहे थे। यह कक्ष चौबीसों घंटे सक्रिय रहता है। केंद्रीय बैंक के एक अधिकारी ने शुक्रवार को पीटीआई-भाषा को बताया कि लॉकडाउन बढ़ाये जाने के कारण आरबीआई ने हाल ही में अतिरिक्त 30 कर्मचारियों को वार रूम में नियुक्त किया है। देश भर में लॉकडाउन 25 मार्च से लागू हुआ है, लेकिन मुंबई इसके करीब एक सप्ताह पहले से ही बंद है। इस स्थिति को ध्यान में रखते हुए, आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने 18 मार्च को अहम -कक्ष स्थापित करने का निर्णय लिया था। आरबीआई के सूत्रों के अनुसार, मध्य मार्च से लगभग 10 प्रतिशत कर्मचारी ही केंद्रीय कार्यालय में काम कर रहे रहे हैं। सामान्य स्थिति में केंद्रीय कार्यालय में लगभग 2,000 लोग काम करते हैं। गवर्नर दास ने शुक्रवार को मीडिया को संबोधित करते हुए उसके विशेष कक्ष में काम करने वाले कर्मचारियों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा, “मैं अपने उन सहयोगियों को धन्यवाद देना चाहता हूं जो कोविड-19 के खिलाफ हमारी लड़ाई में अथक प्रयास कर रहे हैं। अधिकारियों, कर्मचारियों और अन्य सेवा प्रदाताओं की दो सौ से अधिक लोगों की हमारी टीम की विशेष प्रशंसा करता हूं, जो देश के लिये रिजर्व बैंक की आवश्यक सेवाओं को उपलब्ध कराते रहने के लिये अलग-थलग होकर 24×7 काम कर रही है।’’ उन्होंने चिकित्सकों, स्वास्थ्य सेवाओं के अन्य कर्मियों, पुलिस, कानून प्रवर्तन एजेंसियों के कर्मचारियों, सरकारी व निजी क्षेत्र के सक्रिय कर्मियों, बैंकों व अन्य वित्तीय संस्थानों के कर्मचारियों तथा उनके परिजनों की भी प्रशंसा की।

Articles You May Like

सपना चौधरी ने स्टेज पर किया जोरदार डांस, दर्शक उड़ाने लगे नोट- देखें Video
नासा के दो अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर गया स्पेस एक्स का यान सफलता पूर्वक इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन से जुड़ा
George Floyd: भारतीय-अमेरिकी डॉक्टरों ने जॉर्ज फ्लॉयड की मौत और नस्लभेदी संस्कृति की आलोचना की
COVID-19 : औषधि नियामक ने अमेरिकी कंपनी को दवा के विपणन की मंजूरी दी
प्रवासी श्रमिकों को घर पहुंचाने के लिए इस शख्स ने स्वरा भास्कर को कहा ‘लेडी सोनू सूद’, एक्ट्रेस बोलीं- आप सभी ने मुझे…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *