रात 9 बजे, 9 मिनट: मोदी पर तंज कस घिरे थरूर

देश
शशि थरूर और मोहन दास पई। (फाइल फोटोज)शशि थरूर और मोहन दास पई। (फाइल फोटोज)
हाइलाइट्स

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अप्रैल को रात 9 बजे 9 मिनट के लिए बत्तियां बुझाने की अपील की
  • यूपी लोड डिस्पैच सेंटर विभागीय चिट्ठी में संभावित कुछ परेशानियों को लेकर निर्देश दि
  • इस चिट्ठी को कांग्रेस सांसद ने ट्वीट किया और पीएम पर फिर एक भूल करने का तंज कसा
  • इसके जवाब में मोहनदास पई ने थरूर को अनाड़ी सांसद कह दिया

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर रविवार रात 9 बजे से 9 मिनट के लिए देशवासी अपने-अपने घरों की बत्तियां बुझा देंगे और कैंडल, दीपक, टॉर्च या मोबाइल फ्लैशलाइट जलाएंगे। मोदी की इस अपील पर समर्थक और विरोधियों के बीच सोशल मीडिया पर जंग जारी है। दोनों तरफ से एक से बढ़कर एक तर्क-कुतर्क दिए जा रहे हैं। इस बीच कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने उत्तर प्रदेश पावर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन लि. की एक चिट्ठी के हवाले से पीएम पर तंज कसा तो जवाब में इन्फोसिस के पूर्व डायरेक्टर और अक्षय पात्र के संस्थापक टीवी मोहन दास पई ने थरूर को अनाड़ी बता डाला।

अरुंधति रॉय को लोगों ने कहा ‘ISI एजेंट’, पूरा मामला

थरूर का पीएम पर तंज

थरूर ने यूपी पावर ट्रांसमिशन कॉर्पोरेशन लि. के लोड डिस्पैच सेंटर की चिट्ठी ट्वीट करते हुए लिखा, ‘रविवार को 9 बजे रात में बिजली की मांग अप्रत्याशित कमी हो जाएगी और फिर 9.09 बजे अचानक बहुत बढ़ जाएगी। इस कारण इलेक्ट्रिकल ग्रिड क्रैश कर सकते हैं।’ कांग्रेस सांसद ने लिखा, ‘इसलिए इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड्स रात 8 बजे से ही बिजली काटने और 9.09 बजे वापस देने की सोच रहे हैं।’ उन्होंने तंज किया, ‘प्रधानमंत्री ने एक और चीज पर विचार नहीं किया।’

पई ने कहा- अनाड़ी सांसद

इसके जवाब में मोहनदास पई ने लिखा, ‘ये अनाड़ी सांसद अचानक इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के एक्सपर्ट बन गए हैं। घरेलू बिजली खपत का सिर्फ 20-25% हिस्सा ही लाइटिंग का है जबकि घरेलू खपत ही कुल बिजली खपत का महज 15 से 20 प्रतिशत है।’ उन्होंने आगे लिखा, ‘ज्यादातर कमर्शल (ऑर्गनाइजेशन) पहले से ही बंद पड़े हैं और घरों में कम बिजली खाने वाले LED बल्ब लगे हैं।’

कोरोना: माया की बड़ी पहल, योगी ने कहा धन्यवाद

चिट्ठी में क्या है

दरअसल, थरूर और पई के बीच छींटाकशी का कारण जो चिट्ठी बनी है, उसमें अचानक लोड शेडिंग और फिर अचानक हाई पावर डिमांड के कारण कुछ संभावित परेशानियों का जिक्र किया गया है। इन परेशानियों से बचने के लिए संबंधित विभागों और कर्मचारियों को कुछ निर्देश भी दिए गए हैं। मतलब साफ है कि कल रात 9 बजे से 9 मिनट के लिए घरों की लाइटें बुझाने पर इतनी पावर ग्रिडों पर ऐसी कोई आफत नहीं आने वाली जिसे संभाला नहीं जा सके। चिट्ठी में भी यह नहीं कहा गया है। यह चिट्ठी विभाग के अंदर दिशा-निर्देश तय करने के लिए एक औपचारिकता मात्र है। हालांकि, जब कांग्रेस सांसद ने जब इसके बहाने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा तो वह खुद भी पई के शिकार हो गए।

Articles You May Like

सरकार ने नीदरलैंड की फाइल शेयरिंग वेबसाइट ‘वीट्रांसफर’ पर लगायी रोक
श्वेता तिवारी की बेटी पलक तिवारी ने लेटेस्ट फोटोशूट से फिर मचाया तहलका, इस अंदाज में आईं नजर- देखें Photo
Facebook ने लाइव इवेंट के लिए ‘वेन्यू’ एप लॉन्च किया
कैफे में चाय पीते नवाज शरीफ की तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल, उनके स्वास्थ्य पर बहस शुरू
New Bhojpuri Song: अक्षरा सिंह के नए गाने ‘कोरा में आजा छोरा’ ने रिलीज होते ही मचाया धमाल, देखें Video

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *