पेशाब, पीरियड्स का ब्लड और थूक मिलाकर ‘मेड’ ने घरवालों को महीनों तक खिलाया खाना, अब मिली ऐसी सजा

दुनिया

इंडोनेशिया:

घर में खाना बनाने वाले पर कितना भरोसा किया जा सकता है? ऐसा नहीं है घर में खाना बनाने वाली हर मेड भरोसेमंद ना हो. लेकिन कभी-कभार, सोशल मीडिया पर कई बार ऐसे मामले सुनने में आ जाते हैं, जो आपको हर किसी पर शक करने को मजबूर कर दें. एक ऐसा मामला इंडोनेशिया में देखा गया, जहां खाना बनाने वाली मेड खाने में पेशाब, पीरियड्स का ब्लड और थूक सब कुछ मिलाती थी.

सीएनए के मुताबिक, ’30 साल की इंडोनेशिया की महिला डियाना को छ महीने से लेकर सात साल तक की सज़ा सुनाई जा सकती है. इस महिला ने अगस्त 2017 से जून 2018 तक अपने मालिक के घर से करीब 13 हज़ार 300 सिंगापुर डॉलर्स (करीब 7 लाख रुपये) भी चुराए.’

इस महिला ने घर में साल 2017 में काम करना शुरू किया. पहले उसने पैसे चुराए और फिर अगस्त, 2019 में उसने चावलों में पेशाब, पीरियड्स का ब्लड और थूक डालकर खाना बनाना शुरू कर दिया. 

बचाव पक्ष के वकील के मुताबिक महिला का ऐसा मानना था ‘ऐसा करने से घर में रह रहे सभी लोग उसकी बात मानेंगे और उसे डांटेंगे नहीं.’

बता दें, ऐसा नहीं था कि इस खाना बनाने वाली महिला को घरवाले परेशान करते हों या फिर उसे तनख्वाह ना देते हों. इसके बावजूद महिला ने ऐसा कदम उठाया.

महिला ने अपनी चोरी की बात अक्टूबर 2019 में कबूली. उसने बताया कि वो कैसे लॉकर से पैसे चुराया करती थी, जिसके बाद घरवालों ने पुलिस में शिकायत दर्ज की. 

टिप्पणियां

वहीं, इस महिला का कहना है कि उसने कोई गलती नही की है, लेकिन फिर भी इसने सभी घरवालों से दिल से माफी मांगी. 

इस महिला के ऊपर पैसे चोरी करने और खाने में की गई इस हरकत को लेकर दो केस चल रहे हैं, जिसमें इसे सालों तक जेल की सजा या जुर्माना या फिर दोनों सुनाए जा सकते हैं. 

Articles You May Like

Bigg Boss 13 की ट्रॉफी जीतने के बाद सिद्धार्थ शुक्ला ने फैन्स को दिया मैजेस, Video में कही ये बात…
तारा सूतारिया का Video हुआ वायरल, करीना कपूर के भाई संग स्टेज पर यूं मचाया धमाल…
दोस्ती पर मजेदार कविता : ‘द’ से दोस्त
Delhi Result Live: बंपर बहुमत की ओर AAP, दफ्तर में डटे केजरीवाल, जश्न शुरू
बैंक से परेशान था कारोबारी, एक ट्वीट पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लिया ऐक्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *