‘एनआरसी पर अमित शाह-नरेंद्र मोदी में मनमुटाव’

ताज़ातरीन
भूपेश बघेलभूपेश बघेल
हाइलाइट्स

  • भूपेश बघेल का दावा, एनआरसी को लेकर शाह और मोदी में मनमुटाव, जिसमें पिस रहा देश
  • बघले ने कहा, शाह कहते हैं कि एनआरसी लागू होगा और पीएम कहते हैं कि लागू नहीं होगा
  • उन्होंने सवाल किया कि मोदी जो कह रहे हैं वह सही है कि गृह मंत्री जी जो कह रहे हैं वह सही है?

रायपुर
छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को दावा किया कि नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजनशिप (एनआरसी) को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के बीच मनमुटाव है। उन्होंने आगे कहा कि इस मनमुटाव में सारा देश पिस रहा है। बघेल रायपुर के इनडोर स्टेडियम में नगरीय निकाय के नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधियों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने कहा कि अमित शाह जी कहते हैं कि एनआरसी लागू होगा और प्रधानमंत्री जी कहते हैं कि एनआरसी लागू नहीं होगा। सवाल इस बात का है कि सच कौन बोल रहा है और झूठ कौन बोल रहा है। उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री जी जो कह रहे हैं वह सही है कि गृह मंत्री जी जो कह रहे हैं वह सही है?’ उन्होंने दावा किया कि दोनों के बीच में मनमुटाव हो गया है और इसके कारण पूरा देश पिस रहा है और इससे सचेत रहने की आवश्यकता है।

‘महंगाई-बेरोजगारी की नहीं, नागरिकता की हो रही चर्चा’

बघेल ने कहा, ‘आज देश में महंगाई है, मंदी है, बेरोजगारी है, लेकिन उसकी चर्चा नहीं हो रही है। चर्चा नागरिकता की हो रही है। आप भारत के नागरिक हैं यह सवाल ही आपको सबसे बड़ा अपमान करने वाला है।’ उन्होंने कहा कि वे पूछते हैं कि आपके माता-पिता की जन्म तिथि क्या है, कितने लोग बता सकते हैं कि उनके माता-पिता की जन्म तिथि क्या है? छत्तीसगढ़ में बड़ी संख्या में लोग गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करते हैं। उनके पास जमीन नहीं है। उनके माता-पिता निरक्षर थे।

बघले ने कहा, ‘जब वह स्कूल नहीं गए हैं तो प्रमाणित कैसे करेंगे? और जब प्रमाणित नहीं होगा फिर एहसान करेंगे कि फिर से आवेदन दो तुमको हिंदुस्तानी बना रहे हैं।’ मुख्यमंत्री ने कहा कि असम में एनआरसी लागू हुआ और वहां लोग परेशान हैं। कई बड़े नेताओं का नाम उसमें नहीं है और भारतीय जनता पार्टी के लोगों को गुमराह कर रही है जिससे सचेत रहने की आवश्यकता है। बघेल ने पुलवामा हमले की घटना पर भी सवाल उठाया और कहा कि इसका जिम्मेदार कौन है?

Articles You May Like

टेक: Itel Vision 1 स्मार्टफोन भारत में हुआ लॉन्च, इन फीचर्स से है लैस
सूखे में सुख: ‘वर्ष 2019 में फिल्म व्यवसाय की कमाई 27 प्रतिशत बढ़कर 5,613 करोड़ रुपये: रिपोर्ट
विस्तार का अमेरिका की यूनाइटेड एयरलाइंस के साथ सीट साझा करना शुरू
AGR केसः अब भरेगा या मरेगा वोडाफोन आइडिया!
वित्त मंत्रालय ने व्यापार पर कोरोना वायरस के असर के आकलन के लिये मंगलवार को बुलायी बैठक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *