माहौल को बचाएं और सुनहरा करियर बनाएं

कैरियर, जॉब junction

सांकेतिक तस्वीर

कई कंपनियों में पर्यावरण संरक्षण से संबंधित नौकरी की संभावनाएं हैं। इनमें रिसर्च और अडवाइस देने वाले लोग, ऊर्जा की खपत कम करने की दिशा में काम करने वाले एक्सपर्ट आते हैं। इसके अलावा इंवायरनमेंटल साइंस की पढ़ाई करके पारिस्थितिकी तंत्र व जैव विविधता बरकरार रखने के गुर सिखाने वाले विशेषज्ञ, प्रदूषण कम करने के टिप्स देने वाले एक्सपर्ट की जॉब भी मिल सकती है। ये सभी काम ग्रीन जॉब्स की श्रेणी में आते हैं।

मिनिमम क्वॉलिफिकेशन
इंवायरनमेंटल साइंस की फील्ड में अंडरग्रैजुएट लेवल पर एंट्र्री के लिए बीएससी इन इंवायरनमेंटल साइंस या किसी भी साइंस सब्जेक्ट में ग्रैजुएशन और साथ में इंवायरनमेंटल साइंस में डिप्लोमा होना चाहिए। पीजी के लिए एमएससी या एमटेक इन इंवायरनमेंटल साइंस जरूरी।

सैलरी: 20 हजार रुपेय प्रति माह से शुरुआत

यहां से कर सकते हैं कोर्स
स्कूल ऑफ इंवायरनमेंटल साइंस, जेएनयू, नई दिल्ली – www.jnu.ac.in

दी एनर्जी ऐंड रिसोर्सेज इंस्टिट्यूट (टेरी), नई दिल्ली – www.jnu.ac.in

सेंटर फॉर इकोलॉजिकल साइंसेज, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस, बेंगलुरु- ces.iisc.ernet.in

Products You May Like

Articles You May Like

Milan Talkies Trailor: ‘मिलन टॉकिज’ का ट्रेलर रिलीज होते ही वायरल, खूब देखा जा रहा है Video
दिल्ली सरकार ने राशन डीलरों की लाभांश राशि में करीब तीन गुना की वृद्धि की
20 February in History: आज ही के दिन भारत को आजाद करने की हुई थी घोषणा, जानिए 20 फरवरी का इतिहास
Samsung Galaxy S10 सीरीज़ के प्री-ऑर्डर ऑफर्स लीक
ATM से लाखों रुपये लेकर भाग रहे थे लुटेरे, एक्सीडेंट हुआ और फिर लोगों ने चोरों से लूटे पैसे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *