भैयाजी सुपरहिट

फ़िल्म रिव्यू

ऐसा लगता है बॉक्स आफिस पर इस दीवाली को रिलीज हुई करीब 300 करोड़ के भारी भरकम बजट में बनी यशराज बैनर की आमिर, बिगबी स्टारर ‘ठग्स ऑफ हिंदोस्तान’ का बुरी तरह से फ्लॉप होना बरसों से एक अदद हिट के लिए तरस रहे ऐक्शन स्टार सनी देओल के लिए मंगलमयी रहा। ठग्स के पिटने के अगले 2 सप्ताह में बॉक्स आफिस पर सनी देओल की दो ऐसी फिल्में रिलीज हुई जो लंबे अर्से से सिनेमा के स्क्रीन पर आने को तसर रही थीं। पहली चंद्रप्रकाश द्विवदी की ‘मोहल्ला अस्सी’ जो लगभग 7 साल में रिलीज पाई और इस हफ्ते रिलीज हुई ‘भैयाजी सुपरहिट‘ यह फिल्म भी लंबे अर्से के इंतजार के बाद स्क्रीन तक आ सकी। बेशक ‘मोहल्ला अस्सी’ को दर्शकों ने बुरी तरह से ठुकरा दिया और एक हफ्ते में फिल्म 2 करोड़ की कमाई भी नहीं कर पाई। इसकी वजह फिल्म ट्रेड से जुड़े मेकर अशोक कौशिक कई साल पहले इस फिल्म का यूट्यूब पर लीक होना मानते हैं। ऐसे में अब सबकी उम्मीदें ‘भैयाजी सुपरहिट’ पर टिकी हैं। बरसों बाद सनी देओल की कोई फिल्म दिल्ली, यूपी में 200 से ज्यादा स्क्रीन पर रिलीज हुई तो दिल्ली के 98 फीसदी सिनेमाघरों में इस फिल्म ने दस्तक दी है। ऐसे में अब ट्रेड से जुड़े जानकार मानते हैं कि ठग्स का टिकट खिड़की पर नहीं चलना सनी के लिए बहुत अच्छा साबित हुआ। अब सनी देओल एक बार फिर से अपने दम दिखाने को तैयार हैं। नीरज पाठक के निर्देशन में बनी इस फिल्म को पहले बेहद कम सिनेमा मालिक लगाने के मूड में थे लेकिन ठग्स ने जब सिनेमाघरों पर कर्फ्यू जैसा माहौल बना दिया तो हर सिनेमा मालिक ने ‘भैयाजी सुपरहिट’ को अपने यहां लगाने का मन बनाया। ट्रेड पंडितों की मानें तो सनी की यह फिल्म रिलीज होने से पहले ही मुनाफे में जा रही है इसकी वजह वितरकों को सिनेमा मालिकों से मिला अडवांस और मिनिमम गारंटी पर ‘भैयाजी सुपरहिट’ को रिलीज करना माना जा रहा है।

कहानी: नामी बाहुबली डॉन लाल भाई साहब दुबे (सनी देओल) हमारी फिल्मों में नजर आने वाले डॉन की तरह नहीं हैं। वह वही करते है जिसे करने को उनका मन करता है। भैयाजी क्रूर और ऐसे डॉन नहीं हैं जो बात-बात पर गोलियों की बौछार करे या निहत्थों को मारता हो। इसके उलट भैयाजी का बस एक ही सपना है उन्हें मुंबई जाकर हिंदी फिल्मों का सुपरस्टार बनना है। अपने इस सपने को पूरा करने के लिए भैयाजी कुछ भी करने को तैयार हैं। भैयाजी की वाइफ सपना दुबे (प्रीति जिंटा) भी अपने पति के अंदाज में ही नजर आती है। बेशक उसे खून-खराबा पंसद नहीं लेकिन वह भी वही करती है जो उसे करना है। अपने सुपरस्टार बनने के सपने को पूरा करने के लिए भैयाजी मुंबई आकर गोल्डी कपूर (अरशद वारसी) और तरुण घोष (श्रेयस तलपड़े) से मिलते है जो उन्हें हीरो बनने की ट्रेनिंग देते हैं कि सीन कैसे करना है लेकिन भैयाजी तो अपने अंदाज में ही ऐक्टिंग करना चाहते हैं। उन्हें डायरेक्टर के इशारों पर नाचना या नकली ऐक्शन पसंद नहीं। अब आप समझ ही सकते है कि यहां आकर भैयाजी क्या करते होंगे। यहीं उन्हें मल्लिका (अमीषा पटेल) मिलती है जो उन्हें किसी भी कीमत पर अपना बनाना चाहती है। क्या मुंबई आकर भैयाजी हीरो बन पाते हैं? क्या मल्लिका उन्हें अपना बना पाती है? यह जानने के लिए आपको भैयाजी से मिलने जाना होगा।

slide

भैयाजी सुपरहिट- ऑफिशल ट्रेलर

Loading

ऐक्टिंग: अगर सनी देओल की बात करें तो उनका वही स्टाइल है। हां, बाहुबली डॉन के किरदार में उनका लुक और डायलॉग डिलिवरी दमदार है। अरशद वारसी और श्रेयय तलपड़े जब भी स्क्रीन पर नजर आए तभी दर्शकों के चेहरे पर मुस्कराहट आती है। अरशद वारसी का बिंदास कॉमिक टाइमिंग शानदार है। प्रीति जिंटा अलग अंदाज में है और अपने रोल को उन्होंने बस निभा भर दिया है। हां, अमीषा पटेल, मल्लिका के रोल में अपनी मौजूदगी दर्ज कराने में कामयाब रहती हैं।

डायरेक्शन: नीरज पाठक का निर्देशन औसत दर्जे का है ऐसा लगता है। उन्होंने सनी को अपनी मर्जी से ऐक्टिंग करने की पूरी छूट दी हो। हां, कई सीन्स अच्छे बन पड़े है, कई कॉमिडी पंच कमाल हैं। फिल्म का क्लाइमेक्स 70-80 के दौर में नजर आने वाली फिल्मों जैसा ही है। संगीत की बात करें तो फिल्म में ऐसा कोई गाना नहीं है जो आपको याद रह सके, टाइटिल सॉन्ग का फिल्माकंन अच्छा बन पड़ा है।

क्यों देखें: अगर आप मुंबइया ठेठ ऐक्शन और कॉमेडी मसाला फिल्मों के शौकीन हैं तो इस फिल्म को देख सकते हैं लेकिन अगर कुछ अलग और लीक से हटकर मूवीज पंसद करते है तो यह फिल्म आपको अपसेट कर सकती है। हां, बरसों बाद प्रीति जिंटा और अमीषा पटेल के फैन्स को अपनी चहेती ऐक्ट्रेसेस को इस फिल्म के जरिए स्क्रीन पर देखने का मौका मिल रहा है।

Products You May Like

Articles You May Like

दिल्ली में Nursery Admission प्रोसेस आज से शुरू
स्पाइडर मैन: इनटु द स्पाइडर-वर्स
बीजेपी शासन के दौरान 6 महीने जेल में रहा यह किसान नेता, अब बीजेपी प्रत्याशी को ही दी चुनाव में पटखनी
सीमित कारोबार के बीच तेल तिलहन बाजार भाव में स्थिरता
सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली के डायरेक्टरों की लग्जरी कारों को जब्त करके बेचने का आदेश दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *