गोवर्धन 2018: क्यों मनाते हैं यह पर्व, जानें पूजा विधि और महत्व

राशि

दीपावली के दूसरे दिन यानी कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा को गोवर्धन और गौ पूजा का विशेष महत्व है। मान्यता है कि इस दिन गाय की पूजा करने के बाद गाय पालक को उपहार एवं अन्न वस्त्र देना चाहिए। ऐसा करने से घर में सुख समृद्धि आती है। वृंदावन और मथुरा सहित देश के कई हिस्सों में इस दिन गोवर्धन पर्वत की पूजा की जाती है और अन्नकूट उत्सव मनाया जाता है। इस बार गोवर्धन पूजा 8 नवंबर को है। आइए, जानते हैं इसका महत्व और पूजा विधि…

धार्मिक कथानुसार, भगवान श्रीकृष्ण ने इंद्र का अभिमान चूर करने के लिए गोवर्धन पर्वत को अपनी छोटी उंगली पर उठाकर संपूर्ण गोकुल वासियों की इंद्र के कोप से रक्षा की थी। इन्द्र के अभिमान को चूर करने के बाद भगवान श्रीकृष्ण ने कहा था कि कार्तिक शुक्ल प्रतिपदा के दिन 56 भोग बनाकर गोवर्धन पर्वत की पूजा करें। गोवर्धन पर्वत से गोकुल वासियों को पशुओं के लिए चारा मिलता है और यही पर्वत यहां बादलों को रोककर वर्षा करवाता है, जिससे कृषि उन्नत होती है। इसलिए गोवर्धन की पूजा की जानी चाहिए।

तभी से गोवर्धन पूजा के दिन अन्नकूट बनाकर गोवर्धन पर्वत और भगवान श्रीकृष्ण की पूजा करने का विधान है। वहीं एक अन्य धार्मिक मान्यता के अनुसार, आज के दिन अन्नकूट इसलिए मनाया जाता है क्योंकि इन्द्र के कोप से गोकुलवासियों को बचाने के लिए जब कान्हा ने गोवर्धन पर्वत को अपनी छोटी उंगली पर उठाया तब गोकुल वासियों ने 56 भोग बनाकर श्रीकृष्ण को भोग लगाया था। इससे प्रसन्न होकर श्रीकृष्ण ने गोकुल वासियों को आशीर्वाद दिया कि वह गोकुल वासियों की रक्षा करेंगे।

अन्नकूट बनाने की विधि
अन्नकूट बनाने के लिए सभी मौसमी सब्जियां, दूध, मावा, सूखे मेवे और चावल का प्रयोग किया जाता है। साथ ही ताजे फल और मिष्ठान से भगवान को भोग लाया जाता है।।

क्यों होती है इंद्रदेव की पूजा?
गोवर्धन पूजा में भगवान कृष्ण के साथ ही धरती पर अन्न उपजाने में मदद करने वाले सभी देवों जैसे, इन्द्र, अग्नि, वृक्ष और जल देवता की भी आराधना की जाती है। गोवर्धन पूजा में इन्द्र की पूजा इसलिए होती है क्योंकि अभिमान चूर होने के बाद इन्द्र ने श्रीकृष्ण से क्षमा मांगी। तब कान्हा ने उन्हें क्षमा करते हुए गोवर्धन पूजा में उनकी आराधना का आदेश दिया।

Products You May Like

Articles You May Like

मीडिया को सबक सिखाने के लिए भतीजे आकाश को BSP से जोड़ेंगी मायावती
नीरव मोदी केस: सरकार ने ED मुंबई चीफ को हटाया, जांच अधिकारी को प्रक्रिया के बिना रिलीव करने में दी थी दखल
तमिलनाडु में पीएम मोदी का द्रमुक-कांग्रेस गठजोड़ पर तंज- जो घोर शत्रु थे, उन्होंने हाथ मिला लिए
जयाप्रदा के खिलाफ ‘खाकी अंडरवीयर’ वाले बयान पर फंसे आजम खान, महिला आयोग सख्त
शीला दीक्षित भी लड़ सकती हैं लोकसभा चुनाव, राहुल गांधी के अनुरोध पर कर रही हैं विचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *